पाटन- राजस्थान परिवहन निगम की रोडवेज बसें पाटन बाईपास एवं धांधेला रोड पाटन से गुजर रही है जबकि पाटन मुख्य चौराहे से सभी रोडवेज बसों को गुजरना चाहिए परंतु रोडवेज बसों के चालक और परिचालक के मनमर्जी के मुताबिक रोडवेज बसें मुख्य बस स्टैंड से नहीं गुजरकर अन्य मार्गो से जा रही हैं जिससे यात्रीगण असमंजस की स्थिति में रहते हैं कि बस पाटन मुख्य बस स्टैंड पर रुकेगी या धांधेला मोड पर या फिर पाटन बाईपास पर इसमें  यात्रीगण एक निर्धारित बस स्टैंड पर बस के नहीं आने से यात्रियों की भागदौड़ मची रहती है जिससे यात्रियों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। उससे यात्रियों को पाटन मुख्य बस स्टैंड तक जाने में काफी मशक्कत करनी पड़ती है। बारिश के मौसम में नाले का बहाव क्षेत्र होने के कारण यात्री पैदल यात्रा बिल्कुल भी नहीं कर पाता है रात्रि में यात्री को पाटन बाईपास पर उतारने से उसके साथ चोरी लूटपाट मर्डर दुष्कर्म जैसी अप्रिय घटना होने का अंदेशा बना रहता है सबसे ज्यादा इस स्थिति में महिलाओं में भय बना रहता है। धांधेला रोड के मार्ग पर 3 विद्यालय स्थित है स्कूल आने जाने के दौरान विद्यार्थियों में और अभिभावकों में डर बना रहता है।
कि कहीं कोई अप्रिय घटना ना हो जाए खासकर छोटे बच्चों के साथ ऐसी दुर्घटना होने की संभावना सदैव बनी रहती है। रोडवेज बसों के चालकों और परिचालकों से अनेकों बार वार्तालाप के दौरान उन्होंने बताया कि पाटन के करजो मोड से बाईपास की रोड में अनेक बड़े बड़े गड्ढे होने की वजह से बसों का मार्ग परिवर्तित करना पड़ रहा है बसों का रूट परिवर्तन का मुख्य कारण रोड की दुर्दशा है ऐसी स्थिति में स्थानीय नेता और अधिकारीगण इस रोड की दशा सुधार दें तो आमजन को जो परेशानी हो रही है उससे  छुटकारा मिल सकता  है सीकर डिपो के विभागीय अधिकारियों को अनेकों बार लिखित और दूरभाष के माध्यम से शिकायत की जा चुकी है  जिस पर विभाग के अधिकारियों ने रोडवेज बसों के चालकों और परिचालकों को आदेश भी दिए थे उसके बावजूद चालक और परिचालक अपनी हठधर्मिता और मनमर्जी रवैया अपना रहे हैं।

नीमकाथाना न्यूज़

The Group Of Digital Neemkathana




- ऐसी ही अपने क्षेत्र की ताजा ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए डाउनलोड करें Digital Neemkathana App गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध।