नीमकाथाना-अतिरिक्त मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट क्रम संख्या प्रथम परिवाद 297/2012 में स्वप्रसंज्ञान  लेकर 365/34 एवं अन्य धाराओं में मुलजिम हैड कांस्टेबल मोहनलाल स्वामी  को गिरफ्तारी वारंट से तलब किया था। उक्त मुलजिम की गिरफ्तारी नहीं होने पर परिवादी सांवलराम यादव ने पुलिस अधीक्षक से मिलकर ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में अवगत करवाया कि मुझे पुलिस थाने में गैर काूननी रूप से हिरासत में लेकर राजनैतिक दबाव में थर्ड डिग्री टोरचर करते हुए अमानवीय यातनाऐं देकर अन्याय किया था। एवं न्यायिक अभिरक्षा से ओर यातनाऐं देने की नीयत से परिवादी का अपहरण कर अपराधिक कृत्य किया। प्रकरण में अदालत में सभी गवाहों के बयान तथा स्वयं के सामने एवं अधिवक्ताओं के सामने पुलिस द्वारा परिवादी का अपहरण किया गया। जिसपर परिवादी के पुत्र के प्रार्थना पत्र पर प्रंसज्ञान लेकर मुलजिमान मोहनलाल स्वामी को गिरफ्तारी वांरट से तलब किया गया था। लेकिन अभी तक उक्त मुलजिम को गिरफ्तार नहीं किया गया। जिससे आमजन में पुलिस के प्रति नाराजगी हो रही हैं। एसपी ने परिवादी को जल्द से जल्द गिरफ्तार करवाने का आश्वासन दिया।


- ऐसी ही अपने क्षेत्र की ताजा ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए डाउनलोड करें Digital Neemkathana App गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध।