नीमकाथाना न्यूज़ के लक्की में ड्रा भाग लें

News Update

पालिकाध्यक्ष ने आमजन को गुमराह किया-खण्डेलवाल


अंडरपास चालू व सर्किल बनाने को लेकर छठे दिन भी जारी रहा क्रमिक अनशन
नीमकाथाना-अंडरपास संघर्ष समिति का क्रमिक अनशन छठे दिन भी जारी रहा। शनिवार को सीकर सांसद सुमेधानंद सरस्वती सहित कई भाजपा नेता धरना स्थल पहॅुचें। समिति के लोगों ने अंडरपास चालू व आरओबी के दोनों तरफ सर्किल बनाने को लेकर ज्ञापन सौंपा। जिसपर सांसद ने अंडरपास को चालू करवाने के लिए उच्च अधिकारियों को अवगत करवाकर जल्द से जल्द अंडरपास चालू करवाने का आश्वासन दिया। वहीं शाम को पूर्व विधायक रमेश खंडेलवाल अपने समर्थकों के साथ धरना स्थल पर पहॅुचकर समिति को अपना पूर्ण समर्थन दिया। खंडेलवाल ने अपने संबोधन में पालिकाध्यक्ष त्रिलोकचंद दीवान पर आरोप लगाते हुए कहा कि पालिका के बजट का दूरूप्रयोग करते हुए अनावश्यक कार्यो में कर रहा हैं जिसका लाभ आमजन को नहीं मिल रहा हैं। पिछले महिनों से अंडरपास का कार्य नगरपालिका के कारण बंद हुआ। लेकिन पालिकाध्यक्ष ने आमजनता को गुमराह कर अंडरपास के कार्य को जानबूझकर विलंब करवा दिया। 
शर्म की बात यह है कि जिस वार्ड ने दीवान को जीताकर पालिकाध्यक्ष बनाया उसी वार्डवासियों को आवागमन में भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा हैं। पूरे राजस्थान की नगरपालिकाओं में आम रास्ते चैड़े होते हुए देखे हैं लेकिन नीमकाथाना एक ऐसी नगरपालिका हैं पुलिस थाना रोड जो कि अस्सी फीट के रास्ते को सकड़ा कर साठ फीट का बना दिया। इस रास्ते पर अपने लाभ के लिए भूमि को व्यवसायिक भूमि में बदल दिया। पालिका क्षेत्र में कई वार्डो में सड़के बनी हुई हैं जिनकी गारंटी अभी बची हुई हैं। उनके उपर दौबारा सड़क बनाकर पालिका बजट का दुरूप्रयोग कर रहा हैं।
   जिनका कार्य रूकवाकर अंडरपास के लिए जिसकी भूमि अधिग्रहण की जायेगी उसको उचित मुआवजा देने में काम में लिया जावें। वार्ड नम्बर 24 के पार्षद अन्नू शर्मा ने भी समिति को समर्थन दिया। खंडेलवाल ने ईओ द्वारा सोशल मीडिया पर पत्रकारों पर टिप्पणी करने को लेकर कहा कि लोकतंत्र के चैथे स्तंथ हैं अधिकारी अपने काले कारनामों को छिपाने के लिए इस प्रकार का आरोप पत्रकारों पर लगा रहे है कि आरटीआई माध्यम से काले कारनामों को उजागर नहीं कर सके। पत्रकारों पर टिप्पणी करने का अधिकार किसी अधिकारी को नही हैं। इस दौरान संयोजक सांवलराम यादव, डाॅ रणजीत जाखड़, सत्यनारायण अग्रवाल, अशोक दालमील, जुगलकिशोर, पूरणमल, सुभाष शर्मा, भुवनेश शर्मा, सतीश शर्मा, बोदू मीणा, देशराज जाखड़, प्रवीण महरानियां सहित सैकड़ों लोग मौजूद रहे।

header ads