नीमकाथाना न्यूज़ के लक्की में ड्रा भाग लें

News Update

अपडेट- रायपुर बांध में अस्थियां विसर्जन करने गए बालक की डूबने से मौत, गुस्साऐं परिजनों ने पाटन थाने में हत्या का मुकदमा दर्ज करवाया


पड़ोस में बुजुर्ग महिला की शमशान घाट में बची हुई राख को बहाने के लिए साथ गया था बालक
परिजनों ने ग्यारह लोगों के खिलाफ पाटन थाने में हत्या की रिपोर्ट दर्ज करवाई
नीमकाथाना- रायपुर बांध में डूबने से बालक की मौत का मामला सामने आया हैं। नरेगा में काम करने वाले मजदूरों ने बालक को पानी से बाहर निकाला। गंभीर हालत में बालक को राजकीय कपिल अस्पताल में पहॅुचाया। जहां चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। जानकारी अनुसार निकट ग्राम भगेगा  में राजपूतो के बुजुर्ग महिला का देहांत हो गया था। शमशान घाट में बची राख को परिवार के लोग रायपुर बांध में बहाने के लिए गये हुए थे। वही गांव के कुछ युवक भी पीछे से रायपुर बांध पहॅुच गए।
मौके पर गुस्साए परिजनों से समझाइश करती पुलिस
उनमें से ही पड़ोस का आशीष गुर्जर भी गया था। बांध में नहाते समय संतुलन बिगड़ने से पानी में डूब गया। मौजूद लोगों के चिल्लाने से वहां काम कर रहे नरेगा मजदूरों ने बालक को बाहर निकाला। निजी वाहन से राजकीय कपिल अस्पताल में पहॅुचाया। चिकित्सकों ने बालक को मृत घोषित कर दिया। घटना की जानकारी परिजनों को मिलते ही घर में कोहराम मच गया। परिजन रोते बिलखते अस्पताल पहॅुचे। गुस्साऐं परिजनों ने राजपूूूत परिवार के साथ धक्का मुक्की कर अस्पताल में हंगामा खड़ा कर दिया। सूचना पर कोतवाली पुलिस पहॅुचकर मामले को शंात करवाने की कोशिश की लेकिन मामला तूल पकड़ता गया।
अस्पताल में धक्का मुक्की करते परिजन
मौके पर सदर व पाटन पुलिस मय जाब्ते पहॅुचकर मामले को शांत करवाया। परिजनों ने हत्या का आरोप लगाया। दीपेन्द्र गुर्जर ने पाटन थाने में उपस्थित होकर रिपोर्ट दर्ज करवाई। पपू सिंह, बहादुर सिंह, बबलू सिंह, चेतनसिंह, नरेन्द्र सिंह, विरेन्द्र सिंह, सोनू सिंह, मोनू सिंह, किशोर सिंह व निसु सिंह सहित ग्यारह लोगों के खिलाफ चचरे भाई आशीष को रायपुर बांध में डुबोकर मार देने की रिपोर्ट दर्ज करवाई। शाम को मेडिकल बोर्ड की टीम से शव का पोस्टमार्टम करवाया। शव को परिजनों को सुपुर्द कर पुलिस जांच में जुटी।


header ads