नीमकाथाना न्यूज़ के लक्की में ड्रा भाग लें

News Update

नमाज अदा कर एक-दूसरे के गले मिलकर भाईचारे व अमन-चेन की दुआ मांगी

नीमकाथाना- आज बड़े ही धूमधाम से ईद का पर्व मनाया जा रहा है। सुबह मुस्लिम समाज के हजारों लोगों ने ईदगाह पहुंचकर ईद की नमाज अदा कर देश में अमन चेन भाईचारे की दुआ मांगी। छावनी में ईदगाह में मौलाना निसार अहमद व शहर की जामा मस्जिद में हाफिज अमजद रशीदी ने नमाज अदा करवाई ।
नमाज अदा के बाद एक दूसरे को मुबारकबाद देते हुए।

        मौलाना निसार अहमद ने बताया कि मुस्लिम समुदाय के लोग एक माह का पवित्र रमजान महिना खत्म होने के बाद एक मज़हबी ख़ुशी के त्यौहार के रूप में मीठी ईद या ईद उल-फितर मनाते हैं। यह इस्लामी कैलेण्डर के दसवें महीने शव्वाल के पहले दिन मनाया जाता है। मीठी ईद को लेकर माना जाता है कि पैगम्बर हजरत मुहम्मद ने बद्र के युद्ध में विजय हासिल की थी। इस जीत की खुशी में सबका मुंह मीठा करवाया गया था। आगे चलकर इसी दिन को मीठी ईद कहा जाता है। पहली ईद उल-फितर 624 ईस्वी में मनाई गई थी।
   
 
       नमाज के बाद मुस्लिम समाज के लोगों ने एक दूसरे को गले मिलकर ईद की मुबारकबाद दी। इस दौरान समाजसेवी दौलत राम गोयल, प्रधान संतोष गुर्जर, मदनलाल सेनी, तहसीलदार बृजेश गुप्ता, हाजी अमीर, हाजी मुनीर खान, मजीद, लालमोहम्मद, रमजान, साकिर, अयूब, मो रशीद, समीर जोनी, अजीज कुरेशी, महबूब मियां, शोहिब कुरेशी सहित अनेक लोग मौजूद रहे।
header ads