नीमकाथाना-- क्षेत्र में विगत 4 दिनों से लगातार चल रही आयकर विभाग की कार्रवाई को लेकर शहर में जन चर्चाओं का बाजार आसमान छू रहा है। क्षेत्र में लोग अपना-अपना कयास लगा रहे हैं बेनामी संपत्ति को लेकर उद्योगपतियों के ठिकानों पर विभाग की टीम ने गुरुवार अलसुबह एक साथ छापे मारे थे। जिसकारण उद्योगपतियों को दस्तावेजों को इधर-उधर करने का मौका नहीं मिला। उद्योगपतियों के निजी व्यक्ति जिनके नाम से बेनामी संपत्ति खरीदी गई थी। उनके दस्तावेज मिलने पर उद्योगपतियों के साथ-साथ जिनके नाम से बेनामी संपत्ति खरीदी उनकी भी नींद उड़ी हई है।
फ़ाइल फ़ोटो
लोगों ने बताया राजस्थान के इतिहास में नीमकाथाना क्षेत्र का नाम एवं भारत सरकार के खजाने में आयकर विभाग एवं अन्य कर चोरी की रिकवरी में सबसे ज्यादा योगदान पालिकाध्यक्ष त्रिलोक चंद दीवान, दौलत राम गोयल, महेंद्र गोयल, महेश मेगोतिया, ब्रह्मदत्त मोदी व सुन्दरमल सैनी का हो सकता है। उक्त प्रकरण का खुलासा उच्चाधिकारियों द्वारा करीब सप्ताह भर बाद होने की संभावना है सर्च अभियान की टीम की कार्रवाई को देखकर क्षेत्र में करीब सैकड़ों उद्योगपति एवं प्रॉपर्टी व्यवसाई बाजार से नदारद हो गए शहर में आयकर चोरी को लेकर अधिकतर व्यापारी घबराए हुए नजर आए।

- ऐसी ही अपने क्षेत्र की ताजा ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए डाउनलोड करें Digital Neemkathana App गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध।