मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने शराब की दुकानों पर बिक्री रात्रि आठ बजे बंद होने की सख्ती से पालना सुनिश्चित करने के निर्देश देते हुए पुलिस एवं आबकारी विभाग के अधिकारियों से कहा है कि यदि शराब की कोई दुकान रात्रि 8 बजे बाद खुली पाई जाए तो पेनल्टी लगाने, दुकान सील करने अथवा अनुज्ञापत्र निरस्त करने जैसी कड़ी कार्रवाई अमल में लाएं।


उन्होंने कहा कि वर्ष 2008 में ‘मद्य संयम’ को प्रोत्साहित करने के लिए हमारी सरकार ने रात्रि 8 बजे बाद शराब की बिक्री पर रोक लगाई थी, जिसका सकारात्मक संदेश गया था।

राज्य में मद्य संयम की नीति को सशक्त बनाने एवं इसे प्रोत्साहित करने के लिए सरकार कटिबद्ध है। गहलोत शनिवार को सीएम कार्यालय में वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक कर रहे थे। पूर्व विधायक स्व. गुरुशरण छाबड़ा के शराब के सेवन को हतोत्साहित करने के प्रयासों का हमने समर्थन किया था।

रात आठ बजे बाद शराब की अंकित मूल्य से अधिक वसूलने पर करें कार्रवाई बैठक में बताया गया कि अंग्रेजी शराब पर अंकित मूल्य से अधिक वसूलने की शिकायतें मिली हैं। इस पर गहलोत ने निर्देश दिए कि विभाग विशेष दल गठित कर ऐसी शिकायतों पर कार्रवाई करें।

मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए कि स्व. छाबड़ा के साथ हुए समझौते की पालना सुनिश्चित की जाए। इसके लिए अतिरिक्त मुख्य सचिव वित्त के स्तर पर विशेष बैठक रखने के भी निर्देश दिए।  अन्य राज्यों से अवैध शराब की तस्करी को कड़ाई से रोकें। उन्होंने शराब का अवैध परिवहन करने वाले लोगों से कड़ाई से निपटने के निर्देश दिए।

विज्ञापनविज्ञापन के लिए संपर्क करें- 9079171692,7568170500

Join Whatsapp Group

नीमकाथाना न्यूज़

The Group Of Digital Neemkathana




- ऐसी ही अपने क्षेत्र की ताजा ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए डाउनलोड करें Digital Neemkathana App गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध।