विज्ञापन के लिए सम्पर्क करें- +91-9079171692, +91-9680820300

News Update

कांग्रेस ने चुनावों में किए गए वादों के खिलाफ भाजपा ने राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंपा


नीमकाथाना-वर्तमान कांग्रेस सरकार ने चुनावों में किए गए वादों को पूरा नहीं करने पर भाजपा कार्यालय से सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने जमकर नारेबाजी करते हुए उपखण्ड कार्यालय पहॅुचे। जहां उपखण्ड अधिकारी के रीडर को महामहिम राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंपा। 
भाजपा कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस पार्टी के वादाखिलाफी को लेकर राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंपा।

ज्ञापन में अवगत करवाते हुए बताया कि विस चुनावों के दौरान कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने राजस्थान में प्रचार के दौरान वोट लेने के लिए किसानों को 10 दिन के अंदर संपूर्ण कर्जामाफी का ऐलान किया गया था। उसके बाद पार्टी के जन घोषणा पत्र में कर्जामाफी का जिक्र किया और विगत 17 जनवरी 2019 को अभिभाषण में दो लाख रूपये के कर्जामाफी का उल्लेख किया। लेकिन एक महिने से उपर बीत जाने के बाद सदन के अंदर ना ही बाहर कोई समय सीमा तय की और ना ही यह बताया कि प्रदेश में 59 लाख किसानों को 90 हजार करोड़ के कर्जे कब तक माफ होगंें। 
कांग्रेस पार्टी ने विस चुनावों में भोले-भाले किसानों के वोट लेने के लिए भ्रम फैलाकर जनता को गुमराह किया हैं। देश के प्रधानमंत्री को ऐतिहासिक पहल पर देश के आर्थिक रूप से पिछड़े सामान्य वर्ग के लिए 10 प्रतिशत आरक्षण का प्रावधान 124वें संशोधन के जरिये किया गया हैं। भाजपा के अनुरूप गई कई प्रदेशों में तत्काल प्रभाव से लागू कर दिया गया। लेकिन राज्य सरकार लागू नहीं कर रही हैं। कांग्रेस ने घोषणा पत्र में बेरोजगार युवाओं को 35 सौ रूपये भत्ता देने का वादा किया गया था। जो अभी तक नहीं दिया गया है। ज्ञापन में मांग की है कि कांग्रेस सरकार जल्द से जल्द कर्जामाफी, 10 प्रतिशत आरक्षण एवं 35 सौं रूपये भत्ते के प्रावधान को लागू करे अन्यथा भाजपा आंदोलन करने पर मजबूर होगी। उसके बाद पालिका के बाहर अनिश्चितकालीन धरने पर पहॅुचकर पालिका के खिलाफ जमकर नारेबाजी की गई। इस दौरान भाजपा नेता प्रमोद बाजौर, पूर्व विधायक फुलचंद गुर्जर, नरेश शर्मा, विनोद नाई, महेन्द्र सोमानी, जेपी लोढा, बाबूलाल गुर्जर, महेश सुण्डा, सुरेश गुर्जर सहित सैकड़ों कार्यकर्ता मौजूद रहे।