Our Co. Partner- SMP School Kairwali, BulBul E Recharge

Headlines

श्रीमाधोपुर: रलावता टोल बूथ पर चार हथियारबंद लुटेरों ने फायरिंग कर छह मिनट में 40 हजार रुपए लूटे

श्रीमाधोपुर- स्टेट हाईवे 37 के रलावता टोल पर शुक्रवार देर रात कैंपर में आए चार हथियारबंद लुटेरे रिवाॅल्वर से फायरिंग करते हुए टोल बूथ से 40 हजार रुपए व अन्य सामान लूट कर ले गए। फायरिंग के दौरान बूथ पर मौजूद वाहन चालकों ने खेतों में छिपकर अपनी जान बचाई।


छह मिनट तक टोल बूथ पर लुटेरों का आतंक था। लुटेरे सीसीटीवी की डीवीआर मशीन भी ले गए। टोलकर्मियों ने बताया कि रात 1.26 बजे पर टोल बूथ पर एक सफेद कलर की बोलेरो कैम्पर आई। उसमें चार लुटेरे सवार थे। गाड़ी रुकते ही दो लुटेराें ने दो फायर किए। वहीं दो लुटेरों ने टोलकर्मियों पर लाठियों से हमला कर दिया।

फायरिंग से बचने के लिए टोलकर्मी और वहां मौजूद 4-5 वाहन चालक खेतों में छिप गए। लुटेरों ने टोल बूथ के केबिन एवं सीसीटीवी तोड़ दिए। टोल बूथ से कलेक्शन के 40 हजार रुपए लूट लिए। आरोपी सीसीटीवी डीवीआर मशीन, सीपीयू, प्रिंटर आदि भी लूट कर 1.32 बजे वहां से चले गए। टोल कंपनी के ऑफिस में भी डीवीआर मशीन में पूरी वारदात कैद हो गई।

लूट की वारदात के बाद लुटेरों खंडेला की और भाग गए। घटना की सूचना पर नीमकाथाना एएसपी धनपत राज, रींगस डीवाईएसपी मनस्वी चौधरी, श्रीमाधोपुर थानाधिकारी बलवंत सिंह यादव जाब्ते के साथ मौके पर आए। पुलिस की दो टीमों ने शनिवार को दिनभर कई जगह दबिश दी, लेकिन आरोपियों का सुराग नहीं लगा।

फायरिंग के बाद बुलेट के खोल भी साथ लेकर चले गए 

टोल इंचार्ज सोनू शर्मा ने बताया कि रोज की तरह रात करीब डेढ़ बजे केबिन में कैश पर नवलगढ़ निवासी राजेश जाट तथा बिसाऊ निवासी प्रकाश मेघवाल बैठे थे। टोल कर्मी मुकेश व सरदार बाहर बैठे थे तथा अन्य टोलकर्मी पास ही बने घर में सो रहे थे। 1.26 बजे लुटेरे बोलेरो कैंपर में आए। आते ही फायरिंग शुरू कर दी। एक ने केबिन में बैठे राजेश के पेट पर लाठी मारी।

फायरिंग से टोल कर्मी डर गए और केबिन छोड़कर भाग गए। दो लुटेरों ने केबिन में घुसकर कैश लूट लिया। टोल के पास सो रहे टोल कर्मी अचानक फायरिंग व शोर शराबा सुनकर वही दुबक गए। लुटेरे पूरी तैयारी के साथ आए थे। आरोपियों ने 11 सीसीटीवी तोड़ दिए। फायरिंग के बाद मौके पर पड़े बुलेट के खोल भी साथ लेकर चले गए।

टोल के कैशियर सोनू शर्मा ने बताया कि जैसे ही लुटेरों ने फायरिंग की तो टोलकर्मियों के साथ-साथ टोल कटवाने के लिए लाइन में लगे करीब तीन-चार वाहन चालक भी दहशत में आ गए और अपने वाहनों से उतरकर खेतों की ओर भाग गए। बदमाशों के फरार होने के बाद उन्होंने अपने वाहनों को संभाला।

कैश जमा करा दिया था, वरना बढ़ सकती थी लूट की रकम 

टोल बूथ पर मौजूद कर्मचारियों ने रात 12 बजे तक हुए 40 हजार के कलेक्शन को जमा करवा दिया था। जिसके कारण से लुटेरों के हाथ 40 हजार रुपए ही लग पाए। लुटेरे केबिन में रखे 40 हजार रुपये नकद, दो सीपीयू, दो प्रिंटर, कैमरा रिकार्डिंग की डीवीआर मशीन और दो कैमरे लूटकर ले गए। वही टोल पर लगी एक एलईडी भी तोड़ दी।

लुटेरे के हुलिए के आधार पर दी दबिश 

पुलिस ने जिले भर में नाकाबंदी करवाई। शनिवार को पुलिस ने टोलकर्मियों के जताए गए संदेह के आधार खंडेला क्षेत्र के अपराधी को पकड़ने के लिए दबिश भी दी।

एसएचओ बलवंत सिंह ने बताया कि टोलकर्मियों द्वारा दी गई रिपोर्ट में एक लुटेरे का हुलिया खंडेला क्षेत्र के खटुंदरा गांव के एक अपराधी से मिलने के कारण पुलिस ने उसके घर पर दबिश दी। टोल कर्मचारियों ने पुलिस को बताया था कि ये अपराधी बिना टोल चुकाए इसी टोल बूथ से अक्सर गुजरता है। 

No comments