नीमकाथाना की हर खबर सिर्फ नीमकाथाना न्यू.इन पर...

Headlines

क्या आप जानते है कि दुनिया की पहली फोटो लेने में लगा था 8 घंटे का समय ? जानिए ऐसी ही 5 रोचक जानकारीयाँ...

Post By- Neha

दुनियाँ अजूबो से भरी पड़ी है, लेकिन अभी तक कई ऐसी जानकारिया है जो लोगो की पहुँच से परे है। आज हम आपको ऐसी ही 5 जानकारियों से रूबरू करवाएंगे जो बेहद ही रोचक है।

1. दुनिया की पहली फोटो लेने में लगा था 8 घंटे का समय

mammoth-camera-george-lawrence

दुनिया का जो सबसे पहला कैमरा था उससे यदि आपको अपनी फोटो खिंचवानी थी तो आपको 8 घंटे उसके सामने बैठना पड़ता। यद्दपि यह नामुमकिन जैसा लगता है क्योंकि एक व्यक्ति आठ घंटे तक एक ही मुद्रा में नही बैठे सकता इसीलिए दुनिया की पहली फोटो गर्मियों के मौसम में बिल्डिंग्स तथा आसमान की खिंची गई थी।

यह इतनी साफ़ नही थी लेकिन प्रथम बार 1826 में फ्रांस के जोसफ नेइप्स द्वारा खिंची गई इस फोटो को खिंच कर जोसफ को जादू जैसा महसूस हुआ कि कैसे सामने का एक नज़ारा बिना किसी कलम कागज़ के हू ब हू पृष्ठ पर उतारा जा सकता है। वर्तमान में यही समय घटकर बहुत ही कम रह गया है क्योंकि आज आप एक सेकंड में 20 हज़ार के करीब फोटो खींच सकते हैं।

2. विश्व का सबसे छोटा युद्ध सिर्फ 38 मिनट का था:



27 अगस्त 1986 की सुबह लगभग 9 बजे इंग्लैंड तथा जंजीबार सल्तनत (जो कि एक पूर्वी अफ्रीकन द्वीप था) के मध्य युद्ध हुआ। इस युद्ध का कारण था ब्रिटिश समर्थक सुलतान हमद बिन थुवानी की मृत्यु के पश्चात उसके उत्तराधिकारी के तौर पर सुलतान खालिद बिन के स्थान पर हमद बिन मुहम्मद को उत्तराधिकार दिलाना जो ब्रिटिशों का विश्वास पात्र था। ब्रिटिश नौसेना ने 38 मिनट में ही बिट अल हुकुम पैलेस को नष्ट कर दिया तथा फलस्वरूप जंजीबार को आत्मसमर्पण करना पड़ा।

3. फेसबुक के प्रथम तीन अकाउंट  



फेसबुक के बारे में तो आप सभी जानते होंगे लेकिन क्या आप जानते हैं कि फेसबुक पर बने पहले तीन अकाउंट है ही नही। इस पर बना चौथा अकाउंट इसके संस्थापक मार्क जुकरबर्ग का है।

माना जाता है कि प्रथम तीन अकाउंट ठीक नही बने थे जो इसके संस्थापक ने स्वयं के लिए बनाने का प्रयास किया था इसी कारण उन्हें डिलीट कर दिया गया उस समय मार्क को भी नही पता था कि उनकी ये सामान्य सी गलतियाँ आज आप इस पेज के माध्यम से पढ़ रहे होंगे।

4. सपनों में आने वाले हर चेहरा हमारा कहीं ना कहीं देखा हुआ होता है

Image result for स्वप्न में नया चेहरा

 हमारा मस्तिष्क स्वप्न में नया चेहरा नही बना सकता जो भी अजीबो गरीब चेहरे या स्थान आपको अपने सपने में दिखाई देते हैं वो आपके द्वारा जीवन में कभी ना कभी देखे जा चुके होते हैं चाहे वे आपको याद हो या ना हों। सपनों के बारे में एक अजीब बात ये है कि आपको सपने का अंत तो याद रह सकता है लेकिन आपका सपना कहाँ से शुरू हुआ यह कभी याद नही रहेगा।

5. माचिस से पूर्व हुई थी सिगरेट लाइटर की खोज

Image result for माचिस लाइटर की खोज

माचिस की खोज से पूर्व ही सिगरेट लाइटर की खोज हो चुकी थी ये बात थोड़ी अजीब लग सकती है परन्तु यदि मनुष्य अपने इतिहास का ओर झांक कर देखे तो पता चलता है कि पत्थरों को रगड़ कर आग जलाना इंसान ने सबसे पहले सीखा था।

यहीं से लाइटर का उपाय आया अंतर सिर्फ ये था कि पत्थरों से आग जलाते समय मनुष्य सूखी घास इत्यादि को इंधन के रूप में प्रयोग करता था जबकि लाइटर में ठोस इंधन की जगह द्रव इंधन ने ले ली थी इसी कारण लाइटर बनाना माचिस बनाने से ज्यादा सरल था क्योंकि वह क्रिया पहले से ही सीखी जा चुकी थी जिसका बाद में विकास कर ओर सरल बनाया गया।

माचिस के विकास के पश्चात महसूस किया गया कि लाइटर की अपेक्षा माचिस से आग जलाना सस्ता व सरल था इसी कारण यह लोकप्रिय हो गया।

जानकारी अच्छी लगे तो फ्रेंड्स के साथ शेयर जरूर करें। 

No comments