बेंगलुरू/कोझीकोड- जानलेवा निपाह वायरस का संक्रमण केरल के सीमावर्ती राज्य कर्नाटक में फैल गया है। कर्नाटक के मेंगलुरू में निपाह वायरस से पीड़ित दो संदिग्ध मरीजों का इलाज चल रहा है। ये दोनों ही मरीज केरल से हैं। इनमें से एक ने हाल में निपाह पीड़ित मरीज से मुलाकात की थी।
केरल में निपाह वायरस से गुरुवार को एक और व्यक्ति की मौत होने से मृतकों की संख्या 12 हो चुकी है। कोझिकोड जिला इस वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित है। कोझिकोड मेडिकल कॉलेज में 136 मरीजों का इलाज चल रहा है। 160 मरीजों के सैंपल जांच के लिए भेजे गए हैं। 22 की रिपोर्ट आई है। इनमें 14 को निपाह वायरस से संक्रमित पाया गया है।

निपाह वायरस के लक्षण:

 निपाह वायरस को NiV इंफेक्शन भी कहा जाता है। इस बीमारी के लक्षणों की बात करें तो सांस लेने में तकलीफ, तेज बुखार, सिरदर्द, जलन, चक्कर आना, भटकाव और बेहोशी शामिल है।

कोझिकोड यूनिवर्सिटी की परीक्षाएं टाल दी गई हैं। कोचिंग, ट्यूशन क्लासेस, पब्लिक मीटिंग पर रोक लगा दी गई है। प्रभावित इलाकों में स्कूल और आंगनवाड़ी केंद्र बंद रखने के आदेश दिए गए हैं।

- ऐसी ही अपने क्षेत्र की ताजा ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए डाउनलोड करें Digital Neemkathana App गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध।