वास्तु टिप्स- हम में से ऐसे कई लोग है जो दिन की शुरूआत पूजा-पाठ से करते हैं। भले ही व्यस्त जीवनशैली के चलते लोग मंदिर न जा पाते हो लेकिन लगभग सभी के घरों में भगवान का एक छोटा-सा मंदिर जरूर होता है। घरों में मंदिर होना एक तरह की सकरात्मकता ऊर्जा का संचार करता है। लेकिन कुछ लोगों द्वारा भूलवश ऐसे कई कार्य कर दिए जाते हैं जिससे नकरात्मक ऊर्जा उत्पन्न होती है।


इसलिए अगर आप घर में उपस्थित मंदिर में पूजा करते हैं तो आपको कुछ विशेष बातों का ध्यान रखना चाहिए।आइए हम आपको बताते हैं ऐसे कार्य और चीजें जिन्हें मंदिर से दूर ही रखना चाहिए।

काले और सफेद वस्त्रों का न करें प्रयोग

पीले या लाल वस्त्र का प्रयोग करें हमेशा पूजा स्थल में पीले या लाल वस्त्र का प्रयोग करें. काले या ब्राउन या सफेद कपड़ों का प्रयोग वर्जित है।

न रखें खंडित मूर्ति
घर के मंदिर में कभी भी टूटी हुई मूर्ति नहीं रखनी चाहिए. समय-समय पर मूर्तियों को साफ रखना चाहिए।

गंदे धूलभरे दीपक का न करें प्रयोग

कभी-कभी ऐसा होता है कि आरती करने वाले दीपक पर धूल की परत चढ़ जाती है। लेकिन ऐसा करना नकरात्मक ऊर्जा को निमंत्रण देने जैसा है. इसलिए दीपक हमेशा धुले हुए होने चाहिए।

शिवलिंग बड़ा नहीं होना चाहिए

हमेशा मंदिर में छोटा शिवलिंग रखना चाहिए। मंदिर में रखे शिवलिंग की साइज ज्यादा बड़ी नहीं होनी चाहिए। शिवलिंग को कभी भी अकेले नहीं रखे, उसके साथ शिव पार्वती और नन्दी की मूर्ति अवश्य रखें।

पूजा करते समय खुला न रखें सिर

पूजा करते समय हमेशा बालों को ढ़ककर रखना चाहिए. जिससे बाहरी आवरणों का प्रभाव हम पर न पड़े।


विज्ञापनविज्ञापन के लिए संपर्क करें- 9079171692,7568170500

Join Whatsapp Group

नीमकाथाना न्यूज़

The Group Of Digital Neemkathana




- ऐसी ही अपने क्षेत्र की ताजा ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए डाउनलोड करें Digital Neemkathana App गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध।