सूचना- आप और हम मिलकर बनाएंगे नीमकाथाना को डिजिटल...हमारी टीम नीमकाथाना की सभी सरकारी और गैर सरकारी संस्थाओ की बेसिक जानकारी पोर्टल पर उपलब्ध करवाने हेतु डाटा कलेक्ट कर रही है। जानकारी देने में हमारा सहयोग करें।

Headlines

तोगड़िया का अनशन शुरू, बोले- पीएम, भाजपा और संघ ने हिंदुओं से वादाखिलाफी की

न्यूज़ सर्विस-  विश्व हिन्दू परिषद (विहिप) के पूर्व कार्यकारी अध्यक्ष प्रवीण तोगड़िया ने मंगलवार को आमरण अनशन शुरू किया। उन्होंने प्रधानमंत्री, भाजपा और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ पर पर करोड़ों हिंदुओं से वादा-खिलाफी का आरोप लगाया। कहा, उनका पीएम मोदी से कोई व्यक्तिगत झगड़ा नहीं है।


तोगड़िया ने राम मंदिर के लिए कानून, गोरक्षा कानून समेत अन्य मुद्दों को लेकर साधु-संतों के साथ अनशन की शुरूआत की। उन्होंने कहा कि वह उन मांगों पर अड़े रहे, जिनका वादा कर भाजपा सत्ता तक पहुंची है। उन्हें राम मंदिर की मांग अथवा विहिप छोड़ने को कहा गया था।

वह सिर कटा सकते हैं पर हिंदुओं से गद्दारी नहीं कर सकते। मोदी सरकार ने अब तक एक भी वादा पूरा नहीं किया बल्कि करोड़ों हिंदुओं और भाजपा, संघ और विहिप को छोटे-छोटे चंदे देने वाले करोड़ों व्यापारियों से भी वादाखिलाफी की है।

कहा-हिंदू, किसान, युवा, महिलाओं और मजदूरों के लिए हर लड़ाई लड़ेंगे 

तोगड़िया ने कहा, ‘आप देखिएगा हम ही संसद में कानून बनाकर राम मंदिर बनवाएंगे। इसी के साथ गोहत्या बंदी कानून, कश्मीर के हिंदुओं को कश्मीर में बसवाएंगे और किसानों को सी-2 मुआवजा भी दिलाया जाएगा। उन्होंने कहा कि किसानों को फसल का मुआवजा अब चुनावी जुलमा बनकर नहीं रह जाएगा बल्िक केंद्र सरकार को किसानों को उनका पूरा हक देना ही होगा।

पुलिस ने नहीं दी अनुमति, बदलना पड़ा आयोजन स्थल 

इससे पहले तोगड़िया को जीएमडीसी मैदान पर उपवास पर बैठना था लेकिन पुलिस ने अनुमति देने से इनकार कर दिया जिसके बाद विहिप मुख्यालय के बाहर उपवास शुरू किया गया। विहिप के पूर्व नगर अध्यक्ष राजू पटेल ने कहा , ‘ पुलिस ने हमें जीएमडीसी मैदान पर बैठने की अनुमति देने से इनकार कर दिया इसलिए हमें आयोजन स्थल बदलना पड़ा। ’ गौरलतब है कि राघव रेड्डी के हारने के बाद केंद्र सरकार पर बड़ा हमला करते हुए तोगड़िया ने कहा था कि सत्ता के मदमस्तों ने सत्य और धर्म को दबाया है। उन्होंने कहा कि जैसे वो अभी तक उनके साथ कदम से कदम मिलाकर चलते रहे हैं, वैसे ही अभी भी उनका साथ दें।

No comments