Our Co. Partner- SMP School Kairwali, BulBul E Recharge

Headlines

नीमकाथाना- धारा 144 लागू ,भारत बंद के तहत तोड़फोड़ व पुलिस की गाड़ी को किया आग के हवाले

नीमकाथाना न्यू- SC-ST एक्ट पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के विरोध में आज कई दलित संगठनों ने भारत बंद का आह्वान किया है। भारत बंद को कई राजनीतिक पार्टियों और कई संगठनों ने समर्थन भी दिया है। संगठनों की मांग है कि अनुसूचित जाति-जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम 1989 में संशोधन को वापस लेकर एक्ट को पहले की तरह लागू किया जाए।

खेतड़ी मोड़ जलती पुलिस की गाड़ी
प्रदर्शन के तहत कहीं-कहीं पर प्रदर्शनकारी हिंसक हो गए, जिससे वाहनों की तोड़फोड़ और आगजनी की घटनाएं सामने आईं हैं।



नीमकाथाना खेतड़ी मोड़ पर रैली निकाल रहे भारत बंद समर्थको ने आगजनी की जिसमें  3 मोटरसाइकिल व एक पुलिस की गाड़ी को आग के हवाले कर दिया गया।

हिंसक प्रदर्शन में 2 कांस्टेबल सहित एक पुलिस अधिकारी के घायल होने की खबर सामने आई है। मौजूदा हालतों को देखते हुए शहर में धारा 144 लागू कर दी गई है।



रामलीला मैदान के अंदर भी अशांति का माहौल देखने को मिला छोटी दुकान वालो से की बहस बाजी की घटना सामने आई।

भारत बंद का असर राज्य के बाड़मेर जिले में सबसे ज्यादा देखने को मिला जहाँ करणी सेना-दलित प्रदर्शनकारी के बीच भिड़ंत हो गई। अलवर में प्रदर्शनकरियो ने उखाड़ी पटरी जिससे 5 ट्रेनें फसी ।

इसका असर कई राज्‍यों में भी देखने को मिल रहा है।

➧ पंजाब में बस और मोबाइल सेवाएं निलंबित
➧बिहार में ट्रेनें रोकी गईं
➧झारखंड में पुलिस ने प्रदर्शनकारियों पर किया लाठीचार्ज
➧हरियाणा में रास्ता बंद कर प्रदर्शन
➧मध्य प्रदेश में भी प्रदर्शन, 3 की मौत

हिंसा की घटनाएं पंजाब, राजस्‍थान, झारखंड, उत्‍तर-प्रदेश और मध्‍यप्रदेश तक पहुंच चुकी हैं। इस प्रदर्शन से कानून व्यवस्था चरमरा सी गई है। बाजार बंद है, बस परिवहन बाधित हुआ है। प्रदर्शनकारियों ने रेल सेवा को सबसे ज्‍यादा प्रभावित किया है।

यह भी पढ़ें - नीमकाथाना में पुलिस ने पेट्रोल पंप के पीछे घर में छिप बचाई जान, रबर बुलेट से किया हवाई फायर, जिलेभर में 30 गिरफ्तार

यह भी पढ़ें - नीमकाथाना दूसरे दिन भी बंद रहा, 24 के खिलाफ मामला दर्ज

- सचिन पत्रकार  
⇒ Contact On Facebook



No comments