... ...

Headlines

पालिका दस्ते से मारपीट के विरोध में जारी रही हड़ताल, तीन दिन में गिरफ्तारी नहीं तो आंदोलन

नीमकाथाना में अतिक्रमण हटाने के दौरान पालिका दस्ते से मारपीट का मामला

नीमकाथाना - खेतड़ी मोड़ पर अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई के दौरान एईएन सुनील कुमार यादव व कार्मिकों पर हमला करने के मामले में दोषियों की गिरफ्तारी के लिए पालिका अधिकारियों व कार्मिकों की हड़ताल गुरुवार को दूसरेदिन भी जारी रही। कलम व झाडू डाउन हड़ताल में नपा के सभी कार्मिक व अधिकारी शामिल हैं।
गुरुवार को पालिकाध्यक्ष त्रिलोक दीवान, विपक्ष के नेता महेंद्र गोयल, माइनिंग एसोसिएशन के सुंदरमल सैनी धरने में शामिल हुए। कांग्रेस- भाजपा के पार्षद भी धरने में शामिल हुए। जनप्रतिनिधियों ने भी कार्मिकों की मांग का समर्थन करते हुए दोषियों को शीघ्र गिरफ्तार करने की मांग रखी। पालिका दस्ते पर हमले के विरोध में चल रहे आंदोलन को कई कर्मचारी संगठनों ने भी समर्थन दिया।

ग्रामसेवक संघ जिलाध्यक्ष महादेव सिंह काजला, संयुक्त कर्मचारी महासंघ के चिंरजीलाल यादव, मंत्रालयिक कर्मचारी संघ अध्यक्ष रतनमिश्रा धरने में शामिल हुए। कर्मचारी संगठनों ने तीन दिन में आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं होने पर आंदोलन में शामिल होने की चेतावनी दी है। धरने में पालिका के समस्त कर्मचारी शामिल हुए।

बढ़ने लगे हैं कचरे ढेर, नहीं निकला समाधान 

आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पालिका कार्मिक दो दिन से कलम व झाडू डाउन हड़ताल पर हैं। शहर में न सफाई हो पा रही है और न ही कचरा उठ रहा है। जगह- जगह कचरे के ढेर बढ़ने लगे हैं। पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों की पहल पर हुई वार्ता में कोई समाधान नहीं निकला।

एसडीएम जेपी गौड़ व डीएसपी दिनेश यादव ने पालिका कर्मचारियों से वार्ता कर समझाने का प्रयास किया था। हड़ताल के चलते अब लोगों की परेशानियां बढ़ने लगी हैं। शहर में सफाई व्यवस्था पूरी तरह ठप है। ठेका कर्मचारी भी हड़ताल में शामिल हो गए हैं। ऐसे में घर-घर कचरा संग्रहण व मृत पशुओं को उठाने जैसे जरूरी काम भी नहीं हो पा रहे हैं।

No comments