चला: ग्राम गुहाला में विरोध के बीच तोड़ा गया अतिक्रमण

चला: गुहाला में रविवार को अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई शुरू की गई। यहाँ  ग्राम पंचायत ने मुख्य बस स्टैंड से बाजार तक का अतिक्रमण हटाया। बस स्टैंड के अतिक्रमण से जाम की समस्या बनी रहती थी। मामले में ग्रामीणों ने कई बार कलेक्टर को ज्ञापन देकर अवगत कराया था।

source-neemkathana bhaskar
मामले को संज्ञान में लेते हुए सोमवार सुबह तहसीलदार सरदार सिंह गिल ने भारी पुलिस जाब्ते के साथ अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई शुरू करवाई। जो शाम तक चलती रही। यहां जेसीबी और चार ट्रेक्टरों की मदद से निर्माण तोड़कर मलबा उठाया गया। कार्यवाही के दौरान सदर थानाधिकारी करणी सिंह भी मौजूद रहे।

मामले के मुताबिक बस स्टैंड से मुख्य बाजार तक 24 फीट रास्ते को चौड़ा करना है। लेकिन यहाँ पर केवल 13 फिट ही रास्ता है। ऐसे में प्रशासन ने रास्ते के बीच से दोनों तरफ 12-12 फीट का निर्माण तोड़ा।

इधर, बस स्टैंड पर लोगों ने फलों व सब्जी के स्थायी ठेले लगा रखे है। कई दुकान मालिकों ने तो दूकान के सामने पक्का निर्माण कार्य कर लिया है। ऐसे में यहां दिनभर जाम की स्थिति की समस्या बनी रहती है।

व्यापारियों ने कार्रवाई का किया विरोध

बस स्टैंड पर अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई के दौरान कई दुकानदारों द्वारा इसका विरोध कियागया। उन्होंनें कार्रवाई को ही गलत तहरा दिया। एक व्यक्ति ने मंदिर की जमीन खातेदारी की बताकर विरोध किया तो ग्रामीणों ने ही उसे डांट-फटकार लगाई।

पुलिस ने इस मामले में कइयों को पाबंद भी किया है। मामले पर ग्राम पंचायत ने पहले नोटिस जारी किए थे। लेकिन लोगो ने अनदेखी कर निर्माण कार्य नहीं तोड़े। इस पर आगे की कार्रवाई की गई।

गुहाला में बाजार के रास्ते में कई हवेली 200 वर्ष से भी ज्यादा पुरानी है। प्रशासन ने उसे भी अतिक्रमण बताकर तोड़ा है। ग्रामीणों का कहना है कि आजादी से पहले की हवेलियां अतिक्रमण कैसे हो सकती है। कार्रवाई को देखकर कई महिलाएं तो रोने लगी। तहसीलदार के मुताबिक हवेलियां को रास्ते में बाधक बन रही हैं।

विज्ञापनविज्ञापन के लिए संपर्क करें- 9079171692,7568170500

Join Whatsapp Group

नीमकाथाना न्यूज़

The Group Of Digital Neemkathana




- ऐसी ही अपने क्षेत्र की ताजा ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए डाउनलोड करें Digital Neemkathana App गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध।