विज्ञापन के लिए सम्पर्क करें- +91-9079171692, +91-9680820300

News Update

लोगों के विरोध के बाद नगर पालिका काे रोकना पड़ा अतिक्रमण हटाओ अभियान

नीमकाथाना: नगरपालिका को चालू किया गया अतिक्रमण हटाओ अभियान थोड़ी देर चलने के बाद  बंद करना पड़ा। गौरतलब है कि कल रेलवे फाटक 77 से भूदोली रोड तक आने वाले रास्ते को चौड़ा करने का काम शुरू किया गया। अतिक्रमण हटाओ अभियान शुक्रवार को दूसरे दिन विरोध और पक्षपात के आरोपों के बाद प्रशासन को बंद करना पड़ा।
लोगों के विरोध के बाद नगर पालिका काे रोकना पड़ा अतिक्रमण हटाओ अभियान
file photo- neemkathana bhaskar
लोगों ने कार्यवाही में भेदभाव करने एवं चहेतों के निर्माण छोड़ने पर विरोध दर्ज कराया। शाम करीब चार बजे विवाद ज्यादा बढ़ गया तो पालिका अतिक्रमण दस्ते ने काम तत्काल बंद कर दिया। स्थानीय लोगों का आरोप है कि पालिका प्रशासन राजस्व रिकॉर्ड के अनुसार कार्रवाई नहीं कर रहा है। कुछ लोगों को फायदा देने के लिए लोगों के निर्माण तोड़े जा रहे हैं जो कि कतई सही नहीं  है। भेदभावपूर्ण कार्रवाई से लोगों में आक्रोश देखने को मिला।

इससे पूर्व पालिका दस्ते ने करीब दो दर्जन भूखंडों के दीवार व निर्माण तोड़े। इस दौरान मामूली कहासुनी हुई। कार्रवाई के दौरान पर्याप्त पुलिस जाब्ता नहीं होने से पालिका दस्ते को काफी परेशानी हुई। कार्रवाई के दौरान ईओ सलीम खान, जेईएन मनीषसिंह सहित कई लोग थे। अतिक्रमण हटाओ अभियान को देखते हुए रेलवे फाटक 77 से होकर निकलने वाले ट्रैफिक को डायवर्ट किया गया था।

कई लोगों ने सफाई अतिक्रमण अभियान में किया सहयोग

सड़क चौड़ी करने के अभियान को देखते हुए कई लोगो ने पालिका का सहयोग करते हुए खुद ही अपने निर्माण को तोड़ रहे हैं। तो वही कुछ लोग सामान व निर्माण में लगी सामग्री को बचाने का प्रयास कर रहे हैं। नपा दस्ते ने ऐसे लोगों को निर्माण हटाने का समय भी दिया।

किसानो को हुई परेशानी 

दूसरी ओर रास्ते में पड़ने वाले खेतों की दीवारें टूटने से किसानों की फसलें ख़राब हो गई हैं। जिससे किसान अपनी फसल को लेकर चिंतित हैं। फिर से नपती के बाद कार्य 8 तारीख को शुरू होगा।

ईओ सलीम खान ने कहा कि मौके पर पटवारी नहीं होने से नपती नहीं हो सकी। ऐसे में अभियान को  रोकना पड़ा। अब मंगलवार को विवादित स्थल पर फिर से नपती करवाकर अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई शुरू करेंगे। मौके पर पुलिस जाब्ते के साथ बिना किसी भेदभाव के कार्रवाई की जाएगी। अभी तक अभियान के दौरान कोई भेदभाव नहीं किया गया। लोगों ने मौके पर मौजूद दस्ते के कार्मिकों को कार्रवाई से रोका। इस पर कार्रवाई की जा रही है।