नीमकाथाना: कालकोटा में गत बुधवार देर रात को एक पैंथर निकट की पहाड़ियों से आकर गांव के घर में घुस कर एक बकरी का शिकार कर लिया। पैंथर की दहाड़ सुनकर लोग दशहत में आ गये और कमरों में छिपकर अपनी जान बचाई। हालांकि बाद में लोगो ने मिलकर पैंथर को पत्थर मार कर पहाड़ी की तरफ भगा दिया।
घर में घुसा पैंथर, लोगों ने कमरे में छुपकर बचाई जान।
source- google images

स्थानीय जानकारी के मुताबिक़ रात करीब 2 बजे पैंथर केशव गुर्जर के घर में घुसा। वहां बाड़े में तीन बकरियां बंधी थी। उनमें से एक को पैंथर ने मार डाला। केशव के घर के लोग भी बाहर ही सो रहे थे, जो पेंथर की दहाड़ सुनकर कमरों में छिप गए।

मामले की जानकारी वनविभाग को दे दी गई है। गांव की प्रत्यक्षदर्शी गोठी देवी ने रिपोर्टर को बताया कि रात तक़रीबन 2 बजे पैंथर गांव में घुसा और उसने बाड़े में बंधी बकरी को मार डाला। पड़ोसी लोगो की मदद से दो बकरियों की जान बचाई गई। लोगो ने पत्थर फेकने शुरू किये तो पैंथर पहाड़ी की तरफ भाग गया। 

- ऐसी ही अपने क्षेत्र की ताजा ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए डाउनलोड करें Digital Neemkathana App गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध।