बदमाशो के हौसले दिन प्रति दिन बुलंद होते जा रहे है। इसके पीछे सबसे बड़ा कारण पुलिस की नजरअंदाजि है। बदमाशो के तेवर इस कदर चढ़े हुए हैं कि कूलर के लिए मना करने पर ही गोली मार दी गई। आजकल तो गोली बिना तो कोई बात ही नहीं करता। ये वाकिया है दिल्ली के नजफगढ़ का जहां बेखौफ बदमाशों ने एक ढाबे के मालिक और उसके बेटे को गोली इसलिए मार दी क्योंकि उन्होंने कूलर उनके पास रखने से मना कर दिया था।
कूलर पास ना रखने पर, बाप-बेटे को मारी गोली
Image Source- google
मिली जानकारी के मुताबिक़, मृतक श्याम वर्मा नांगली सकरवती गांव में बस स्टैंड के पास 'संगीता होटल' नाम से ढाबा चलाते थे। बात तक़रीबन रात 9:30  बजे की है, जब पांच लोग दो बाइक पर सवार होकर उनके ढाबे पर आए। पहले तो उन्होंने खाना मंगवाया और फिर उनमें से एक युवक ने कूलर उनके पास रखने के लिए बोला।

श्याम ने अन्य लोगों का हवाला देते हुए कूलर उनके पास रखने से मना कर दिया।  गुस्साए युवक ने कूलर पर जोर से लात मारी। फिर इसी बहस के बीच एक बदमाश ने श्याम के बेटे मयंक को गोली मार दी। गोलीबारी होती देख ढाबे पर आये लोगो में अफरा-तफरी मच गई। बेटे को बचाने आए श्याम को भी बदमाशों ने गोली मार दी और वहां से फरार हो गए।

श्याम की तो मौके पर ही मौत हो गई, जबकि उनके बेटे की इलाज के दौरान मौत हो गई। पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपियों की तलाश में जुट गई है।

- ऐसी ही अपने क्षेत्र की ताजा ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए डाउनलोड करें Digital Neemkathana App गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध।