छात्र संगठन एसएफआई ने मनाई भगतसिंह जयंती

0
एसएनकेपी कॉलेज पार्क में छात्र संगठन एसएफआई ने केक काट कर मनाई भगत सिंह जयंती

नीमकाथाना: अन्याय व शोषण के खिलाफ लड़ने वाले महान क्रांतिकारी वीर शहीद ए आजम भगत सिंह की जयंती पर छात्र संगठन एसएफआई ने कॉलेज कैंपस में प्रतिमा को श्रद्धांजलि देकर केक काटकर जयंती मनाई।
तहसील महासचिव साधना सिंघल  ने बताया की भगत सिंह की इस जयंती पर आज हम सभी यह संकल्प लेते हैं कि भगत सिंह का जो सपना था कि जातिवाद मुक्त समाज होना चाहिए ,व्यक्ति की नहीं विचारधारा की पूजा होनी चाहिए उनके सपने को साकार करने के लिए हम सभी शोषण व न्याय के खिलाफ लड़ते रहेंगे।

एसएफआई से पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष एडवोकेट गोपाल सैनी ने भगत सिंह की जीवनी के बारे में बताया किस प्रकार से भगत सिंह 12 वर्ष की कम उम्र में क्रांतिकारी बने अप्रैल 1919 में जलियांवाला बाग हत्याकांड की घटना को देखकर किस प्रकार से प्रभावित हुए हैं, वह कॉलेज के बहाने कितनी दूर पैदल घटनास्थल को देखने पहुंचे और उसी दिन से देश को आजाद कराने व शोषण से मुक्त करने के लिए उन्होंने यह ठान लिया की देश में एक बड़ी क्रांति अन्याय शोषण के खिलाफ लानी पड़ेगी। 

आजादी की क्रांति के उस दौर में उन्होंने अंग्रेज सरकार के खिलाफ काफी लड़ाइयां लड़ी जिनके माध्यम से वो समाज को यह संकेत देना चाहते थे कि किस प्रकार से गूंगी बेहरी सरकार को जगाने के लिए अपनी आवाज मनाने के लिए धमाके की जरूरत पड़ती है। 

इसी विचारधारा के साथ उन्होंने असेंबली में खाली जगह पर है बम्ब फेंके और इंकलाब जिंदाबाद के नारे लगाए और अपने आप को सरेंडर किया फिर जेल के, अंदर से वह अपनी डायरी के माध्यम से इस समाज में परिवर्तन लाने के बारे में हमेशा लिखते रहे और मात्र 23 वर्ष की कम आयु में देश के लिए हंसते-हंसते अपने प्राणों की कुर्बानी दे दी।

इसी के साथ छात्र नेता विजेंद्र ओला ने बताया की साथियों अब वह समय आ गया है भगत सिंह के अधूरे सपनों को पूरा करने का अब हम सभी को एकजुट होकर उनके द्वारा बनाए गए छात्र संगठन एसएफआई के साथ मिलकर हमेशा अन्याय के खिलाफ आवाज को बुलंद करने का।

 इसके बाद सभी छात्र-छात्राओं ने प्रतिमा को पुष्पांजलि अर्पित करते हुए मिलकर केट काटा और भगत सिंह के विचारधारा पर चलने का संकल्प लिया। आज के इस कार्यक्रम में मौजूद रहे तहसील सचिव साधना सिंगूल ,उपाध्यक्ष सुनीता सैनी, एसएनकेपी इकाई उपाध्यक्ष प्रदीप गुर्जर, सोशल मीडिया प्रभारी अजय वर्मा,  दिनेश जिंदल, कमला मोदी कॉलेज इकाई सचिव निशा वर्मा ,इकाई उपाध्यक्ष तीजा जिलोवा ,मोहित यादव, मोनिका यादव, कोमल सैनी बागोली ,मयंक शर्मा ,कीर्ति शर्मा ,शिवानी मोदी, मोनू जिलोवा, सहित सैकड़ो विद्यार्थी मौजूद रहे।

Post a Comment

0Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.
Post a Comment (0)

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Learn More
Accept !