नाबार्ड की लघु जनता विकास कार्यक्रम के तहत आचार व पापड़ बनाने का प्रशिक्षण शुरू

नीमकाथाना: राष्ट्रीय कृषि और ग्रामीण विकास बैंक नाबार्ड के सौजन्य से स्वयंसेवी संस्था जिला पर्यावरण सुधार समिति द्वारा नगर पालिका नीमकाथाना में संचालित स्वयं सहायता समूह कि 30 महिलाओं का नाबार्ड की लघु जनता विकास कार्यक्रम के तहत आचार व पापड़ बनाने का प्रशिक्षण कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता पालिकाध्यक्ष सरिता दीवान ने की। महिलाओं को कहां की महिला इस तरह के प्रशिक्षण प्राप्त करके उत्तम प्रशिक्षण प्राप्त करके  स्वरोजगार शुरू करती है तो उसके परिवार की आय बढ़ेगी। 

जिससे परिवार का विकास क्षेत्र का विकास और देश का विकास होगा। दीवान ने बताया कि प्रशिक्षण के बाद खुद आप सभी को मार्केटिंग में सहयोग करूंगी। मुख्य अतिथि नाबार्ड के जिला विकास प्रबंधक एम एल मीणा ने कहा कि नाबार्ड ग्रामीण विकास में महिला सशक्तिकरण पर विशेष रूप से जोर देता है। हम महिलाओं को समाज की मुख्यधारा से जोड़ने के लिए इस तरह के प्रशिक्षण कार्यक्रम शुरू करवाते हैं ताकि महिला आत्मनिर्भर बने।

 विशिष्ट अतिथि बड़ौदा राजस्थान क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक रीजनल मैनेजर बृजमोहन मीणा ने महिलाओं को बैंकिंग योजनाओं की जानकारी दी। कहा कि अगर आवश्यकता पड़ेगी तो महिलाओं को अपना स्वयं का रोजगार शुरू करने के लिए बैंक से ऋण उपलब्ध कराया जाएगा। आप सभी प्रशिक्षण प्राप्त करने के बाद स्वयं का रोजगार शुरू करें। 

स्वयंसेवी संस्था जिला पर्यावरण सुधार समिति के सचिव राजेश अग्रवाल ने बताया कि संस्था हमेशा महिला सशक्तिकरण के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य कर रही है। नाबार्ड के साथ संस्था स्वयं सहायता समूह से लेकर महिलाओं को स्वरोजगार उपलब्ध करवाने का कार्य कर रही है। कार्यक्रम में नगर पालिका के कर्मचारी अनिल कुमार, महेंद्र गुर्जर, सांवरमल संस्था के क्षेत्रीय प्रबंधक राज कुमार कुमावत मौजूद रहे।
Previous Post Next Post
  विज्ञापन…