सिरोही में सेवगावाली ढाणी की चारागाह भूमि से मिट्टी निकालने का विरोध, खनिज विभाग ने जेसीबी को किया जब्त



सिंचाई विभाग ने उक्त भूमि को कर लिया अधिग्रहण, नियमों की चूक होने पर हुई कार्रवाई

नीमकाथाना। सिरोही कस्बे की ढाणी सेवगावाली के पास चारागाह भूमि पर जेसीबी के द्वारा मिट्टी हटाए जाने पर ग्रामीणों ने विरोध कर दिया। ग्रामीणों का कहना था कि उक्त भूमि चारागाह की हैं जिसमें अवैध तरीके से मिट्टी निकाली जा रही हैं। ग्रामीणों ने इसकी सूचना खनिज विभाग व सरपंच जयप्रकाश कस्वा को दी। मौके पर खनिज विभाग के अधिकारी पहुंचकर साधारण मिट्टी निकाली जा रही थी। जिसको मौके पर बंद करवाया गया। पूछताछ करने पर झुंझुनूं जिले में स्थित मनसा माता मंदिर में बांध निर्माण में सिंचाई विभाग द्वारा काम में ली जा रही हैं। खनिज विभाग ने तत्काल सिंचाई विभाग को सूचना दी। सिंचाई विभाग के अधिकारी भी पहुंचकर ग्रामीणों से समझाइश की, लेकिन ग्रामीण नहीं माने। ग्रामीणों ने कहा कि चारागाह भूमि में किस आधार पर विभाग मिट्टी निकाल रहा हैं। मिट्टी निकालने से मौके पर पेड़ों को भी गिराया जा रहा हैं। विरोध को देखते हुए सिंचाई विभाग सीकर के एक्सईएन भोलाराम व नीमकाथाना एईएन नाथूलाल ने ग्रामीणों को समझाइश की और कहा की यह जमीन सिंचाई विभाग ने अधिग्रहण कर ली है। यहां से मनसा माता मंदिर के पास बांध निर्माण के लिए मिट्टी का सैंपल लिया गया था, जो सही पाया गया। जिसको देखते बांध के निर्माण के लिए यहां से मिट्टी का उपयोग किया जा रहा है। जिसके बाद खनिज विभाग ने साधारण अवैध मिट्टी का खनन कर रही जेसीबी को जब्त कर लिया। इधर, ग्रामीणों ने कहा उक्त भूमि पर मिट्टी नहीं निकलाने देगें। 


इनका कहना हैं

1. ग्रामीणों की सूचना पर मौके पर पहुंचे। सिंचाई विभाग द्वारा हमारे विभाग से बिना कोई सूचना व अनुमति लिए साधारण मिट्टी का अवैध खनन कर रहे थे। सिंचाई विभाग से नियमों में चूक होने के कारण से जेसीबी को जब्त कर लिया। अवैध मिट्टी निकालने पर उचित कार्रवाई की जाएगी। 

प्रमोद कुमार बलवदा
सहायक खनिज अभियंता(सतर्कता)
खनिज विभाग नीमकाथाना।

2. राज्य सरकार द्वारा उदयपुरवाटी के क्षेत्र में  मनसा माता मंदिर के पास बांध निर्माण कार्य चल रहा हैं। जिसके निर्माण में उक्त भूमि की मिट्टी का सैंपल लिया गया था। उससे बाद उक्त चारागाह भूमि को विभाग ने अधिग्रहण कर लिया। जिसके बाद मिट्टी निकाली जा रही थी। नियमों की चूक होने पर जेसीबी को जब्त कर लिया। खनिज विभाग से अनुमति ली जाएगी। 
भोलाराम
एक्सईएन सिंचाई विभाग सीकर।
Previous Post Next Post
  विज्ञापन…