जनवादी नौजवान सभा ने भर्तियों को लेकर प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री के नाम सौंपा ज्ञापन


नीमकाथाना। भारत की जनवादी नौजवान सभा ने रीट, पटवार, एनटीपीसी, ग्रुप-डी भर्तियों को लेकर उपखण्ड कार्यालय पर विरोध प्रदर्शन कर एसडीएम को मुख्यमंत्री, प्रधानमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा। तहसील अध्यक्ष गोपाल सैनी ने बताया कि रीट परीक्षा में एसओजी ने व्यापक भ्रष्टाचार का जो खुलासा किया है उससे जाहिर है कि परीक्षा को रद्द करें व सीबीआई से जांच करवाएं ताकि भ्रष्टाचारियों पर सख्त कार्यवाही हो सके। पटवारी परीक्षा का जो नॉर्मलाइजेशन अपनाते हुए परिणाम जारी किया है उससे चौथे चरण वाले अभ्यर्थियों को ज्यादा नुकसान हुआ इस कारण परिणाम को सुधारते हुए परिणाम पुनः जारी किया जावे। आगामी समय में होने वाली प्रतियोगी परीक्षाओं में नकल, भ्रष्टाचार रोकने के लिए विधानसभा सत्र में सख्त कानून बनाया जाए। वहीं रेलवे भर्ती एनटीपीसी की सीबीटी प्रथम परीक्षा का जो परिणाम जारी किया है उसमें एक ही रोल नंबर को कई पदों पर पास किया है जो गलत है शुरुआती घोषणा के अनुसार 20 गुना अभ्यर्थियों को पास कर परिणाम पुनः जारी किया जावे। रेलवे भर्ती ग्रुप डी की सीबीटी प्रथम परीक्षा करवाने के बाद से सीबीटी 2 परीक्षा करवाने का जो नोटिफिकेशन जारी किया है उसको वापस लिया जाए सिर्फ एक ही परीक्षा करवा कर परिणाम जारी करें। एनटीपीसी व ग्रुप डी भर्तियों के 2019 में फॉर्म भरवाए गए थे 3 वर्ष हो गए हैं अभी तक परीक्षाएं संपन्न नहीं करवाई गई है इसलिए भर्ती प्रक्रिया को जल्द ही पूरी करवाकर बेरोजगारों को रोजगार दिया जाए। अगर राज्य सरकार व केंद्र सरकार नौजवानों की इन मांगों पर शीघ्र ही ध्यान नहीं देते हैं तो आने वाले समय में भारत की जनवादी नौजवान सभा के नेतृत्व में संगठित होकर उग्र आंदोलन करेगा। इस दौरान योगेश सैनी, अजय कुमार, मनोज, रणजीत, दिलीप, राजू, संदीप, शिवराम, जितेंद्र, सुरेंद्र, संतोष, रामअवतार, नितेश, रमेश, रामसिंह, प्रकाश, अशोक, जीवराज, विकास, मोहन, सुनील, प्रवीण, सचिन, मुकेश, सुमेर, लक्ष्मीनारायण, कमलेश, शंकर, सांवरमल मौजूद रहे।
Previous Post Next Post
  विज्ञापन के लिए संपर्क करें..…