मातृ एवं शिशु चिकित्सालय का भूमिपूजन व शिलान्यास, कपिल अस्पताल में ऑक्सीजन प्लांट का किया उद्घाटन


नीमकाथाना। विधायक सुरेश मोदी ने नीमकाथाना विकास के लिए मुख्यमंत्री गहलोत व कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा से जो भी माँगा वो मिला है, इतने बड़े स्तर का अस्पताल नीमकाथाना को मिलना बड़ी बात है, जनाना अस्पताल में गर्भवती महिलाओं से लेकर शिशुओं के उपचार की सभी सुविधाए उपलब्ध रहेंगी। यह बात चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री परसादी लाल मीणा ने मातृ एवं शिशु चिकित्सालय के भूमिपूजन एवं शिलान्यास समारोह में कही। 
विधायक सुरेश मोदी ने मुख्य अतिथि चिकित्सा मंत्री परसादी लाल मीणा व पीसीसी चीफ गोविंद सिंह डोटासरा से दो मुख्य मांगों में कुम्भाराम लिफ्ट परियोजना का पानी व नीमकाथाना को जिला बनाने की मांग रखी। जिसपर पीसीसी अध्यक्ष डोटासरा ने अपने संबोधन में पानी की मांग को लेकर कहा कि मैं सुप्रीम कोर्ट का वकील बनकर जिले से नीमकाथाना की पैरवी करूंगा की नीमकाथाना को पानी कैसे मिले। जिले की मांग को लेकर कहां कि जब भी जिला बने चाहे इस काल में या आमजन के सहयोग से आगामी कांग्रेस सरकार बने तब भी पहली प्राथमिकता नीमकाथाना की रहेगी। जिला बनाना मुख्यमंत्री का काम होता हैं इसलिए जिला बनाना उनका काम हैं। बल्ड बैंक की मांग को लेकर सकारात्मक असर दिखाते हुए जल्द से जल्द शुरू करवाने की बात कही। कार्यक्रम के बाद छावनी स्थित मातृ एवं शिशु चिकित्सालय का भूमिपूजन व शिलान्यास किया। उसके बाद राजकीय कपिल अस्पताल में ऑक्सीजन प्लांट का उद्घाटन किया। 
मुख्यमंत्री चिरंजीवी योजना के लिए किया प्रोत्साहित
इस दौरान दोनों बड़े नेताओं ने गहलोत सरकार की चिरंजीवी योजना के बारे में बताया। उन्होंने सभी से अनुरोध किया कि सभी इस योजना का लाभ उठाये। चिकित्सा मंत्री ने कहा कि 2023 तक राज्य के सभी जिलों में मेडिकल कॉलेज शुरू हो जायेंगे। 

कई जगहों पर हुआ स्वागत
नीमकाथाना आगमन पर चिकित्सा मंत्री मीणा व पीसीसी चीफ डोटासरा के आपने पर गुहाला में पूर्व विधायक रमेश खंडेलवाल ने अपने कार्यकर्ताओं के साथ स्वागत किया। ग्राम चला में विधायक सुरेश मोदी ने सैकड़ों कार्यकर्ताओं के साथ स्वागत किया। इसके बाद सिरोही, शाहपुरा रोड़, खेतड़ी मोड़, विधायक कार्यालय आदि लोगों ने फूल मालाओं के गर्मजोशी के साथ स्वागत किया।

महिला कांग्रेस पूर्व महासचिव सैनी सहित सैकड़ों कार्यकर्ताओं को स्वागत करने से किया दूर
महिला कांग्रेस पूर्व महासचिव मंजू सैनी ने बताया कि डाक बंगले के पास अपने कार्यालय के सामने करीब 200 कार्यकर्ताओं के साथ चिकित्सा मंत्री व पीसीसी चीफ के स्वागत के लिए इकट्ठे हुए थे। जिनको पुलिस व प्रशासन द्वारा मुकदमा दर्ज होने का हवाला देते हुए वहां लगे पोस्टर बैनर व स्वागत द्वार को हटवा दिया गया। कांग्रेस कार्यकत्ताओं को खदेड़ते हुए कार्यकाल के सामने फायर ब्रिगेड की गाड़ी को खड़ा कर दिया गया। मंजू सैनी ने बताया कि कांग्रेस कार्यकर्ताओं को स्वागत करने से रोका गया। जब कांग्रेस में शामिल नहीं होने वाले नेताओं से स्वागत करवा सकते है। ओछी मानसिकता का उदाहरण देते हुए सभी कांग्रेस कार्यकर्ताओं को स्वागत करने से रोका गया जो कांग्रेसियों का अपमान है।

विभिन्न मांगो को लेकर सौंपे ज्ञापन
पहली बार नीमकाथाना आगमन पर चिकित्सा मंत्री मीणा व पीसीसी चीफ डोटासरा को ग्राम चला के लोगों ने सीएचसी, सिरोही में अस्पताल को क्रमोन्नत, बंद बालिका स्कूल को चालू करवाने की मांग, कोविड़ स्वास्थ्य सहायक ने पांच मांग, रीट भर्ती में 50 हजार पद करने, स्वास्थ्य मार्गदर्शक संघ ने संविदा केडर में शामिल करने, राजस्थान बेरोजगार पत्रकार संघर्ष समिति, यूनाइटेड इंडियन जर्नलिस्ट एसोसिएशन व नीमकाथाना पत्रकार परिषद और राजस्थान वर्किंग मीडिया जर्नलिस्ट यूनियन द्वारा APRO भर्ती में पदों के बढाने की मांग की गई। बार संघ ने शेखावाटी संभाग बनाने के लिए ज्ञापन सौंपे। मीडिया से मुखातिब होते हुए डोटासरा ने बताया कि यहां के लोगों द्वारा प्राप्त ज्ञापनों में उल्लेखित समस्याओं का जल्द से जल्द समाधान करवाया जायेगा।
Previous Post Next Post
  विज्ञापन के लिए संपर्क करें..…