राजकीय कपिल अस्पताल में निशुल्क जांचों को गलत बता, लपका गिरोह सक्रिय, आधे घंटे चला हंगामा, पीएमओ को शिकायत की

नीमकाथाना। राज्य सरकार ने आमजन की सुविधाओं के लिए बेहद फायदेमंद योजनाएं लागू की जा रही है। उनमें से स्वास्थ्य सेवाओं में भी लागू है। मुख्यमंत्री योजनाओं के तहत राजकीय चिकित्सालयों में निशुल्क दवाइयों के साथ साथ निशुल्क जांचें भी की जा रही है। लेकिन इन सभी योजनाओं को विफल करने में लपका गिरोह सक्रिय भूमिका निभा रहे हैं। मामला नीमकाथाना के राजकीय कपिल अस्पताल का है जहां लपका गिरोह के सदस्य अस्पताल के चिकित्सकों द्वारा लिखे जाने वाली जाँचों को मरीजों के हाथों से छीनकर जबरदस्ती बहार की लेबोरेट्री से करवाई गई। जानकारी के मुताबिक पपुरना निवासी कनवर लाल सैनी अपनी पत्नी को राजकीय कपिल अस्पताल के चिकत्सक गुमान सिंह यादव से परामर्श लेने आया था। चिकित्सक ने सोनोग्राफी, सीबीसी व अन्य जांच लिखी। पर्ची लेकर अस्पताल के अंदर लाइन में खड़ा हो गया। इसी बीच लपका गिरोह के सदस्य रामकरण व दीपक सैनी ने अस्पताल की जांचों को गलत बताकर बाहर की निजी लैब से एक हजार रुपए की जांच करवा दी। लपका गिरोह ने गलत रिपोर्ट देकर गुमराह कर दिया और अतिरिक्त पैसे भी ले लिये। जिसपर पीड़ित ने दोनो लोगों को मौके पर पकड़ लिया। अस्पताल परिसर में हंगामा खड़ा कर दिया। हंगामे के बाद पीड़ित ने अस्पताल पीएमओं को लिखित शिकायत दर्ज करवाई। शिकायत में लपका गिरोह पर कार्यवाही करने की मांग की।
Previous Post Next Post
  विज्ञापन…  
  विज्ञापन…