इस्तगासे के जरिये दो पुलिसकर्मियों सहित कैंटीन प्रबंधक के खिलाफ मामला दर्ज

कैंटीन में पूर्व सैनिक के साथ मारपीट का मामला

नीमकाथाना। पूर्व सैनिक ने मारपीट को लेकर कोतवाली पुलिस में इस्तगासे के जरिये दो पुलिसकर्मियों सहित कैंटीन प्रबंधक के खिलाफ मामला दर्ज करवाया। दर्ज मामले के अनुसार पूर्व सैनिक श्रवण कुमार ने बताया कि 18 जून को कैंटीन से घरेलू सामान खरीदने के लिए अपनी पत्नि अनिता को साथ लेकर आया था। कैंटीन में सामान खरीदने के लिए टोकन व्यवस्था कर रखी थी। सामान खरीदने हेतु समय पर पहुंचकर परिवादी द्वारा टोकन प्राप्त किया गया। कोरोना गाइडलाइन की पालना करते हुए लाइन में खड़ा था। इसी दौरान रतनसिंह ने बदनियती पूर्वक अपमानजनक गाली देकर अपमानित किया तथा परिवादी से स्मार्ट कार्ड जबरन छीन लिया।अपने ऑफिस में बंद कर दिया। उसके बाद मामला बिगड़ने पर पुलिसकर्मी प्रदीप कुमार, रोहिताश कुमार ने वसूली के तौर पर दो बोतल शराब मांगी तथा घरेलु सामान की मांग की। सामान देने से इन्कार करने पर रोहिताश ने पकड़ लिया तथा प्रदीप कुमार ने मुंह एवं सिर पर जोरदार वार कर घायल कर दिया। गाली गलौज कर बाहर ले जाकर गन्ने के डण्डे व पत्थर फेंक कर जान जोखिम में डाल दी। परिवादी के कपड़े फाड़कर करीब तीन हजार रुपये निकाल लिऐ। परिवादी को एक मोटरसाईकिल रिपेयर की दुकान में जबरन बन्द कर दिया। पत्नी अनिता देवी बीच बचाव को लेकर चिल्लाती रही। जिसके बाद पुलिस बुलाकर पुलिस थाने में परिवादी को बन्द करवा दिया गया तथा काल्पनिक कहानी बनाकर मामला दर्ज कर परिवादी को गिरफ्तार करवा दिया गया। चार दिन बाद परिवादी को रिहा किया गया। मामले को लेकर पूर्व सैनिक ने पुलिस को सूचना दी लेकिन मामला दर्ज नहीं किया गया। जिसको लेकर अधिवक्ता मनीराम जाखड़ के जरिये न्यायालय एसीजेएम प्रथम द्वारा धारा 452, 342, 323,336, 327, 382,427,506,166 भादस में कांस्टेबल प्रदीप कुमार, रोहिताश कुमार एवं कैंटीन प्रबंधक रतन सिंह के खिलाफ मामला दर्ज करवाया गया। पुलिस का अनुसंधान जारी है।
Previous Post Next Post