विधायक हेमाराम चौधरी का इस्तीफा@अब ढाई साल से विधायक हूं, बहुत हो गया, आगे ढाई साल नहीं रहूंगा तो क्या हो जाएगा

नीमकाथाना न्यूज़ ब्यूरो
जयपुर। राजस्थान में कांग्रेस की अंदरूनी सियासत में फिर से उछाल आ गया। गुड़ामनाली (बाड़मेर) विधायक हेमाराम चौधरी ने विधायक पद से इस्तीफा दे दिया है। चौधरी ने ई-मेल और डाक से अलग-अलग इस्तीफे की प्रति विधानसभा अध्यक्ष डॉ. सीपी जोशी को भेजी है। चौधरी ने खुद इस्तीफा भेजने की पुष्टि की है। मिली जानकारी के मुताबिक चौधरी ने 25 जुलाई, 2013 को राजस्व मंत्री रहते हुए ही इस्तीफ़ा दे दिया था उसके बाद 14 फरवरी 2019 को भी इस्तीफा दिया, लेकिन उस वक्त स्वीकार नहीं किया गया लेकिन सरकार ने मना लिया था। चौधरी ने कहा कि अब ढाई साल से विधायक हूं, बहुत हो गया, आगे ढाई साल नहीं रहूंगा तो क्या हो जाएगा। इस्तीफा स्वीकार होने के बाद वजह की जानकारी सामने आएगी। चौधरी सचिन पायलट खेमे के विधायक हैं। पिछले साल पायलट खेमे की बगावत के समय हुई बाड़ेबंदी में भी वे 19 विधायकों के साथ बाड़ेबंदी में थे।चौधरी ने विधानसभा बजट सत्र में भी अपने विधानसभा क्षेत्र में विकास कामों में भेदभाव का आरोप लगाया था। हेमाराम चौधरी सरकार बनने के बाद से ही असंतुष्ट चल रहे हैं, उनकी जगह हरीश चौधरी को मंत्री बनाया गया था तब से वे नाराज हैं। विधानसभा अध्यक्ष डॉ. सीपी जोशी ने हेमाराम चौधरी के इस्तीफा भेजने के बाद मीडिया से दूरी बना ली है, जोशी मीडिया को जवाब नहीं दे रहे हैं।
Previous Post Next Post