नीमकाथाना/पाटन - प्रदेश में बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए राज्य सरकार ने नई गाइडलाइन जारी करते हुए पूरे प्रदेश में विकेंड कर्फ्यू शुक्रवार शाम 5 बजे से बाजार बंद करने के निर्देश दिए जिसको अमल में लाते हुए कस्बे के सभी दुकानदारों ने पालना की और अपनी दुकानें बंद रखी। विकेंड कर्फ्यू पर कस्बे की दुकानें बंद होने से बाजार सूना दिखाई दिया। वहीं बाजार के बंद होने से लोगो को अपनी जरूरत की सामान लेने में भी खासा परेशानी का सामना करना पड़ रहा है, वहीं कुछ कुछ दुकानदार तो दुकानों के नीचे से लोगो को जरूरत की सामग्री भी देते दिखे। विकेंड कर्फ्यू पर कस्बे के दुकानदार जरदा, गुटखा बिडी, सिगरेट जैसे धूम्रपान वाली वस्तुओं पर ओवर रेट वसूलने तथा उपभोक्ताओं की जेब पर डाका डालते हुए मिले, जबकि प्रशासन द्वारा कड़े निर्देश जारी कर रखे है कि ओवररेट वसूलने वाले दुकानदारो पर कड़ी से कड़ी कार्यवाही की जाए परंतु फिर भी दुकानदार अपनी जेब भरने में लगे हुए है। गांव के लोगो ने इस बारे में स्थानीय अधिकारियों को अवगत भी करवाया कि लॉक डाउन के दौरान स्थानीय व्यापारियों द्वारा मूल्य से अधिक रेट वसूली जा रही है तथा आमजन को परेशान किया जा रहा है जबकि सरकार ने सिर्फ लॉकडाउन घोषित किया है काला बाजारी करने को नही कहा है। उसके बावजूद भी यही समाचार मिल रहे है कि पाटन - हसामपुर - डाबला के व्यापारी रेट से अधिक मूल्य वसूलकर ग्राहकों की जेब पर डाका डालने में लगे हुए है। ऐसे में स्थानीय प्रशासन को ऐसे व्यापारियों के विरुद्ध सख्त कायवाही करनी चाहिए जिससे आमजन को राहत मिल सके।

नीमकाथाना न्यूज़

The Group Of Digital Neemkathana




- ऐसी ही अपने क्षेत्र की ताजा ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए डाउनलोड करें Digital Neemkathana App गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध।