नीमकाथाना। निकटवर्ती ग्राम झडाया के पास युवक की हत्या के मामले में करीब 5 घंटे प्रदर्शन के बाद पुलिस के उच्च अधिकारियों की समझाईश के बाद मामला शांत हुआ।फिलहाल शव को उदयपुरवाटी की अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया गया जहां शव का मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम किया गया। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी।जानकारी के अनुसार मृतक विनोद अपने दोस्त महेश यादव को नीमकाथाना छोड़कर आने की कहकर घर से निकला था। महेश नीमकाथाना में शराब के ठेके पर काम करता है। इसके बाद वह नहीं लौटा। रात को करीब 4 बजे झड़ाया बस स्टैंड के किनारे पर विनोद पड़ा हुआ मिला। वहीं पर बाइक और मोबाइल भी मिला।करीब सुबह 4 बजे केम्पर चालक उसे नीमकाथाना अस्पताल तक छोड़ा। उधर, झड़ाया से जाने वाले एक व्यक्ति ने सड़क किनारे खड़ी बाइक को पहचान लिया। इसकी जानकारी विनोद के परिजनों को दी। उसी दौरान अस्पताल से भी फोन आ गया था। परिजन पहले नीमकाथाना पहुंचे और शव को झडाय लाया गया। जहां परिजनों ने मर्डर की आशंका जताते हुए विरोध सुरु कर दिया। पुलिस के उच्च अधिकारियों ने आश्वासन के बाद करीब 5 घंटे बाद मामला शांत करवा कर शव को उदयपुरवाटी अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया गया शव का मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम।

- ऐसी ही अपने क्षेत्र की ताजा ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए डाउनलोड करें Digital Neemkathana App गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध।