नीमकाथाना। पाटन स्थित देईमाई मंदिर के पास डीप हॉल कर भारी ब्लास्टिंग व अवैध अतिक्रमण रूकवाने को लेकर ग्रामीणों ने एसडीएम को ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में बताया कि प्राचीन मंदिर में लाखों श्रद्धालु जात देने के लिए आते है। उक्त मंदिर के पास गेलेक्सी माइंस एंड मिनरल्स संचालित है। लीज के पार्टनर जेपी लोढ़ा द्वारा अवैध डीप हॉल कर भारी ब्लास्टिंग करवाई जाती है। हैवी ब्लास्टिंग करने से मंदिर पूर्ण रूप से कंपायमान हो जाता है। इस दौरान पुजारी व श्रद्धालु सहमे हुए बाहर निकल आते है। इस प्रकार लीज चलाने वाले लोग मंदिर के नियमित पूजा में विघ्न डाल रहे है। भारी ब्लास्टिंग से मंदिर में दरारें आने की संभावना बनी रहती है। वर्तमान में मंदिर के जात देने का कार्यक्रम चालू है। ब्लास्टिंग से मंदिर के कोई भी जनहानि होने की आशंका है। वहीं लीज के समीप जोहडे का कार्य ग्राम पंचायत पाटन द्वारा नरेगा के तहत किया गया। जिसको खुदाई कर पाल बनाई गई। लेकिन लीजधारक पाल को भी ब्लास्टिंग के खुर्द बुर्द कर दिया। ग्रामीणों द्वारा टोकने पर झूठे मुकदमे मे फसाने की धमकी देते है। ग्रामीणों ने मांग की है कि जल्द से जल्द आवश्यक कार्यवाही की जावे। एसडीएम ब्रजेश गुप्ता ने नीमकाथाना तहसीलदार को आवश्यक कार्यवाही के लिए प्रेषित किया। इस दौरान सुनील, लक्ष्मण, रतनसिंह, बनवारी, हरीश, अमरसिंह सहित कई लोग मौजूद रहे।


- ऐसी ही अपने क्षेत्र की ताजा ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए डाउनलोड करें Digital Neemkathana App गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध।