नीमकाथाना।महात्मा ज्योतिबा फुले आवासीय शिक्षण संस्थान नीमकाथाना में भारत की प्रथम महिला शिक्षिका माता सावित्री बाई फुले की 190 जयंती मनाई गई। गोपाल सैनी पूर्व सरपंच नरसिंहपुरी ने कहा कि जिस तरह से सावित्री बाई फुले ने महिलाओं, दलित, हरिजन, पिछड़ों के शिक्षा का अधिकार, बराबरी का अधिकार आदि के लिए संघर्ष किया वैसे ही आज भी महिला उत्पीड़न, समान अधिकार, अन्याय के खिलाफ, बहुत ज्यादा संघर्ष की जरूरत है। सरकारी योजनाओं का गरीब तबके के लोगों तक फायदा दिलाने की कोशिश करो ओर अपने हक अधिकार के लिए लड़ना सीखो। बहादुर मल सैनी ने कहा कि सावित्री बाई फूले के सपनों को साकार करने के लिए आज भी जोर जुल्म के खिलाफ संघर्ष की आवश्यकता है। इस दौरान बहादुर मल सैनी, हरिसिंह सैनी, नथू राम सैनी, बुद्धिप्रकाश सैनी, रामनिवास सैनी, सहित अनेक वक्ताओं ने संबोधित किया।


- ऐसी ही अपने क्षेत्र की ताजा ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए डाउनलोड करें Digital Neemkathana App गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध।