दूल्हा दुल्हन फायरिंग मामला.... पाटन थानाधिकारी को बर्खास्त व अन्य आरोपियों को गिरफ्तार करने की मांग को लेकर उपखंड अधिकारी को ज्ञापन सौंपा



 तीन दिन में गिरफ्तार नहीं किया गया तो 18 दिसम्बर को आर-पार की लड़ाई का ऐलान। 
नीमकाथाना। कस्बे के नेहरू पार्क में मंगलवार को बहुचर्चित दूल्हा-दुल्हन प्रकरण को लेकर सर्व समाज की आक्रोश सभा आयोजित हुई! जिसमें वक्ताओं ने पुलिस पर जमकर आक्रोश व्याप्त किया। सभा के बाद सैकड़ों महिलाओं और पुरुषों ने हाथों में तख्तियां लेकर जोशीले नारों के साथ विशाल रैली निकाली जो रेली उपखंड कार्यालय पर पहुंची। जहां एक बारगी माहौल गरमा गया बाद में पुलिस के आला अधिकारियों एंव आंदोलन में शामिल नेताओं ने समझाइश कर शान्त किया।इस मौके पर प्रतिनिधित्व मंडल एवं उपखंड अधिकारी साधुराम जाट एंव डीवाईएसपी सांवरमल नागोरा को मुख्यमंत्री एवं प्रधानमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा। धरने पर मौजूद अधिकारियों के सामने ही आक्रोशित लोगो ने मांग रखी की पाटन एसएचओ नरेंद्र बढ़ाना को बर्खास्त किया जाए और प्रकरण मे बचे हुए दोषी मुल्जिमो को गिरफ्तार किया जाए। जिसके बाद धरना स्थल पर ही डीवाईएसपी एंव एसडीओ ने आश्वासन दिया कि दोषी लोगों को किसी भी सूरत में नहीं छोड़ा जाएगा और अगर पाटन एसएसओ दोषी पाया गया तो उसे तत्काल हटाए जाने की कार्रवाई की जाएगी। गुस्साए जनप्रतिनिधियों ने इस घटनाक्रम में तत्काल मुख्यमंत्री को हस्तक्षेप करते हुए न्याय करने की बात कही है। उनका कहना था कि स्थानीय विधायक का इस मामले में कोई सुध नहीं लेना भी प्रश्नचिन्ह खड़ा करता है। उन्होंने कहा कि नीमकाथाना पाटन क्षेत्र पिछले काफी समय से अपराधियों की शरण स्थली बन गया है। बदमाशों को पुलिस का सरक्षण है। अपराधियों के तो हौसले बुलंद है तो यह सब अब नहीं चलेगा।इस दौरान खेतड़ी पूर्व विधायक पूरणमल सैनी ,आदिवासी श्री मीन सेना संघ के प्रदेश प्रधान एवं श्री मीन सेना के प्रमुख सुरेश मीणा किशोरपुरा, बसपा नेता राजेश भाईडा़, गीगराज जोड़ली, छात्रसंघ अध्यक्ष विनोद सैनी, सुरज्ञान सिंह मीणा नीमकाथाना, सांवलमल यादव, सरपंच जतन किशोर सैनी, सरपंच धर्मपाल सैनी, सरपंच मीना सैनी, सरपंच राजेश, उपसरपंच सरजीत महिरानिया, उमराव सैनी, काली मीणा नयाबास, अशोक मीणा नयाबास, ममता सैनी स्यालोदडा़, महेश बराला, जे.पी.लोढ़ा, मन्नाराम कॉमरेड, प्रमोद बंसल कांवट, शशिपाल भाकर, शिवपाल सिंह शेखावत नरसिंहपुरी, रविन्द्र डोकन, एडवोकेट बन्टेश कुमार सहित बड़ी संख्या में महिला एवं पुरुष मौजूद रहे।
Previous Post Next Post
  विज्ञापन…