शहीद वीरांगना मतदाता सूची में नाम जुड़वाने को लेकर लगा रही है चक्कर

Jkpublisher
0

राजनीतिक दबाव के कारण सही काम भी नहीं कर रहा है प्रशासन--कविता सामोता

 नीमकाथाना। लोकतंत्र में कर्मचारी , एवं प्रशासनिक अधिकारी इस हद तक गिर जाएंगे यह कभी सपने में भी नहीं सोचा था। एक तरफ महिलाओं को सशक्तिकरण करने के लिए राज्य सरकार बड़े-बड़े दावे कर रही है वही सरकार में बैठे जनता द्वारा चुने गए नेताओं  की ताकत के आगे सरकारी अफसर भी सही काम को करने में हिचकिचा रहे हैं। पिछले 1 साल से क्षेत्र की शहीद वीरांगना अपना मतदाता नामांकन ग्राम पंचायत पुराना बास में जुड़वाने को लेकर निर्वाचन अधिकारी कर्मचारियों चक्कर लगा रही है लेकिन निर्वाचन अधिकारी कर्मी कोई संतोषजनक कार्यवाही नहीं कर रहे हैं,  मंगलवार को शहीद होशियार सिंह सामोता की वीरांगना कविता सामोता ने अपनी पीड़ा प्रेस वार्ता के जरिए  व्यक्त की। शहीद वीरांगना ने बताया कि  पिछले एक वर्ष से अपना नामांकन नगर पालिका मतदाता सूची से ग्राम पंचायत पुरानाबास की मतदाता सूची में जुड़वाने को लेकर निर्वाचन अधिकारी नीमकाथाना, बीएलओ, जिला कलेक्टर सीकर सहित संभागीय आयुक्त को भी अपनी शिकायत से अवगत कराया जा चुका है, लेकिन शहीद वीरांगना को आज तक कहीं भी न्याय नहीं मिला, प्रेस वार्ता में  वीरांगना सामोता ने  निर्वाचन कर्मियों पर आरोप लगाया कि राजनीतिक द्वेषता के चलते  बिना  किसी आवेदन के ही  ग्राम पंचायत  पुरानाबास  मतदाता सूची से हटाकर नगर पालिका नीम का थाना  मतदाता नामांकन  सूची में अंकन कर दिया गया, जिसको लेकर शहीद वीरांगना ने कई बार  निर्वाचन  अधिकारियों कर्मचारियों को  अपना नामांकन ग्राम पंचायत पुराना बास में जोड़ने को लेकर आवेदन किया लेकिन आज तक किसी ने भी कोई कार्यवाही नहीं की ,  वीरांगना सामोता ने बताया कि  तीन बार  ऑफलाइन  एवं  पांच बार  ऑनलाइन  मतदाता सूची में नाम जुड़वाने हेतु आवेदन किया, तथा अनेकों बार  वीरांगना सामोता  व्यक्तिगत रूप से  निर्वाचन अधिकारी, संबंधित बीएलओ  एवं  चुनाव शाखा  में  इस विषय को लेकर  उपस्थित  हो चुकी है लेकिन  कभी भी  वीरांगना को कोई संतोषजनक  जवाब नहीं मिला , शहीद वीरांगना सामोता के ग्राम पंचायत पुरानाबास मतदाता सूची में नाम जोड़ने को लेकर स्थानीय निर्वाचन रजिस्ट्रीकरण अधिकारी साधु राम जाट से मामले को लेकर जानकारी के लिए कई बार मोबाइल पर फोन किया गया लेकिन निर्वाचन अधिकारी ने मोबाइल रिसीव नहीं किया, 
वही भाग संख्या 142 के बीएलओ विनोद कुमार शर्मा ने शहीद वीरांगना सामोता के मतदाता नामांकन सूची में नाम जोड़ने एवं हटाने को लेकर बताया कि मेरे द्वारा 2018 में बीएलओ का चार्ज लिया गया था मैंने कभी भी शहीद वीरांगना का नाम नगर पालिका नीम का थाना मतदाता सूची में ना तो जोड़ा है ना ही हटाया है, शहीद वीरांगना कविता ने अपना नाम नगर पालिका मतदाता सूची से हटाने को लेकर आवेदन किया था, जिसको जांच के बाद उच्च अधिकारियों को प्रेषित कर दिया गया है, 
 कांग्रेस पदाधिकारियों पर लगाया मतदाता सूची से नाम हटाने का आरोप
शहीद वीरांगना सामोता ने  कांग्रेस पदाधिकारियों द्वारा नामावली सूची से हटवाने का आरोप लगाते हुए कहा कि 2015 में मैंने पुराना बास ग्राम पंचायत से पंचायत समिति सदस्य का चुनाव लड़ा था महज 2 वोटों से मुझे कांग्रेस के उम्मीदवार से मात खानी पड़ी। उसके बाद से मेरे द्वारा क्षेत्र मे दिन रात मेहनत कर अपना  राजनीतिक प्रतिष्ठा  एवं वजूद बनाया है। तथा मेरे अमर शहीद होशियार सिंह समोसा सोशल वेलफेयर समिति के माध्यम से क्षेत्र में कई तरह के सामाजिक सरोकारों के कार्य किए जाते हैं तथा समिति द्वारा निर्धन एवं गरीब  लोगों की मदद की जाती है  क्षेत्र में राजनीतिक  प्रतिष्ठा  के चलते कांग्रेसी पदाधिकारी  मेरे से द्वेषता रखते हैं,

Post a Comment

0Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.
Post a Comment (0)

Neemkathana News

नीमकाथाना न्यूज़.इन

नीमकाथाना का पहला विश्वसनीय डिजिटल न्यूज़ प्लेटफॉर्म..नीमकाथाना, खेतड़ी, पाटन, उदयपुरवाटी, श्रीमाधोपुर की ख़बरों के लिए बनें रहे हमारे साथ...
<

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Learn More
Accept !