नीमकाथाना। निजी स्कूलों द्वारा मुख्यमंत्री के नाम एसडीएम को ज्ञापन सौंपा गया। ज्ञापन में बताया कि हर हाल में 17 नवंबर से कक्षा 1 से 12 तक के स्कूल खुले जावे क्योंकि देश के 4 राज्यों में भी ऐसा हो रहा है हाईकोर्ट की एकल पीठ ने निर्णय को जो लागू किया था उसे 28/10/ 20 के आदेश अनुसार संशोधन किया जाए शिक्षा विभाग में गारंटी के तौर पर स्कूलों की जमा एफडी एवं बालिका शिक्षा फाउंडेशन की राशि 3 सालों में वापस जमा कराने की शर्त पर राहत के तौर पर सभी स्कूलों को लौटाई जाए। आरटीई का भुगतान दीपावली से पूर्व हाल ही में किया जाए ताकि स्कूलों में काली दीवाली मनाई जा सके। स्कूल खुलने पर न्यू एडमिशन हेतु आरटीई पोर्टल पुनः खोला जाए एवं भविष्य में शाला दर्पण एवं आरटीई पोर्टल खुलने की स्थिति समान रहे। इनमें कोई भेदभाव ने किया जाए बहुत सारे संचालक वर्तमान में नरेगा में जाने की स्थिति में हैं और सब्जी का ठेला लगा रहे हैं तो कुछ अपना निजी व्यवसाय आर्थिक भरण पोषण हेतु कर रहे हैं ऐसी स्थिति देखते हुए सरकार से अनुरोध किया गया है कि वह आर्थिक पैकेज भी स्कूलों को दे ताकि वह अपनी वर्तमान स्थिति को यथार्थ रूप में संचालित कर सकें। इस दौरान अध्यक्ष कृष्ण कुमार खटाना रवि कुमार गुप्ता, दिनेश देशवाल, नानूराम सैनी, सुभाष चेतीवाल, सतपाल यादव, महेश यादव पाटन ब्लॉक अध्यक्ष, बसंत यादव, मनोज कुलहरी एवं रावत सिंह राणा आदि मौजूद रहे।

- ऐसी ही अपने क्षेत्र की ताजा ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए डाउनलोड करें Digital Neemkathana App गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध।