नंदी के पेट में भरा पानी मोहल्ले वासियों ने किया प्राथमिक उपचार
घटना के बाद में पत्रकार ने डॉक्टर को किया फोन डॉक्टर ने घटनास्थल पर आकर किया नंदी का उपचार

नीमकाथाना@क्षेत्र के रेलवे बुगदा अंडरपास में जब देखो तब पानी से भरा हुआ दलदल नजर आता है और उसी दलदल में शुक्रवार की शाम एक छोटा नंदी अचानक फस गया जिसको मोहल्ले वासियों की मदद से नगरपालिका कर्मचारियों ने बाहर निकाला और उस नदी को फिर बुगदे के पास ही छोड़ गए इसके बाद उस नंदी के पास वहां पर कुत्ते मंडराने लगे तो मोहल्ले वासियों ने देखकर वहां से कुत्तों को भगाया और फिर कीचड़ में लथपथ हुए नंदी के प्राथमिक उपचार में लग गए नंदी के पेट में कीचड़ व पानी भरने से पेट काफी फूल गया था
जिसको मोहल्ले के केशव, माडुराम, कैलाश, बबलू वर्मा ईन 4 लड़कों द्वारा पेट को काफी बार दबाया लेकिन पानी बाहर नहीं निकला इसके बाद रात 9बजे इस मामले की सूचना पत्रकार मनीष टॉक व दीपक शर्मा को दी गई तो पत्रकार ने इस मामले की सूचना प्रमुख चिकित्सक डॉक्टर त्यागी को दी इसके बाद डॉक्टर त्यागी के निर्देश पर डॉ बलराम यादव एवं डॉ सांवरमल सामोता घटनास्थल पर पहुंचे और नंदी के पेट में पानी व कीचड़ भरने से नंदी अचेत अवस्था में था जिसका उपचार चिकित्सक ने मौके पर किया व दवाई पिलाई गई इसके बाद नंदी की हालत में थोड़ा सुधार आया लेकिन ईलम बाद भी मोहल्ले के चार लड़के करीब रात 11 बजे तक नंदी के पास में ही रखवाली के लिए डटे रहे।लेकिन गौर करने वाली बात यह भी है कि इस रेल्वे बुगदा में हर वर्ष पानी भरने से दलदल हो जाता है और इधर से राहगीरों  का आना-जाना भी बंद हो जाता है लेकिन नगरपालिका इस गंभीर समस्या पर ध्यान नहीं देने के कारण कोई भी जीव या इंसान इसमें फंस सकता है मोहल्ले वासी भी इस गंभीर समस्या के कारण परेशान रहते हैं नगर पालिका प्रशासन को इस गंभीर समस्या पर ध्यान देना होगा और जल्द ही इस समस्या का निराकरण भी करना होगा।

- ऐसी ही अपने क्षेत्र की ताजा ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए डाउनलोड करें Digital Neemkathana App गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध।