नीमकाथाना@ विश्वव्यापी कोरोना महामारी में कोरोना योद्धाओं द्वारा दिनरात अपनी सेवाओं से कोरोना से पीड़ित लोगों का इलाज कर रहे है। वहीं नीमकाथाना तहसील के ग्राम पंचायत मावंडा कलां निवासी प्रशांत सिंघल पुत्र बनवारीलाल सिंघल जो पिछले 15 मार्च से लगातार ईएसआईसी अस्पताल रोहिणी दिल्ली में नर्सिंग ऑफिसर के पद पर रहकर आपातकालीन वार्ड में अपनी सेवाएं दे रहे हैं।
 सिंघल अपने परिवार में बुजुर्ग पिता व परिजनों से फोन पर ही बात करते है और कहते है कि अपना ध्यान रखना सावधान रहना सतर्क रहना एक दूसरे की बीच सोशल डिस्टेंस रखना। इनके माता पिता सहित सभी ने हौसला बढ़ाया है और कहा है कि जितना हो सके जनता की सेवा करो और कोरोना को सभी को मिलकर हराना है। जिसपर सिंघल ने कोरोना महामारी से अंतिम दम तक इस भयंकर महामारी को हराकर ही घर लोटने की बात हैं। वहीं इनके रहने खाने की व्यवस्था सरकार द्वारा की जा रही है। विगत तीन माह पूर्व ही बेटा हुआ था। जिसको अभी तक अच्छी तरह से देखा भी नहीं। वहीं इनके बड़े भाई किशोर सिंघल यहां संस्कृत विद्यालय में व्याख्याता के पद पर कार्यरत है।

- ऐसी ही अपने क्षेत्र की ताजा ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए डाउनलोड करें Digital Neemkathana App गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध।