आधार कार्ड के नाम पर नगर पालिका में अधिकारियों के नाक के नीचे चल रहा है रुपए ऐंठने का खेल
ऊपर की कमाई का सोशल मीडिया में वीडियो हुआ वायरल
नीमकाथाना@ नगरपालिका में एक बच्ची के आधार कार्ड बनवाने आए परिजन से 50 रुपए ले लिए गए जबकि आधार कार्ड निशुल्क व्यवस्था पर उपलब्ध हो रहा है। जानकारी अनुसार सोशल मीडिया में एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें भूदोली निवासी कमलेश कुमार अपनी बच्ची का आधार कार्ड बनवाने नगरपालिका में गया तो आधार कार्ड के नाम पर उससे ₹50 ले लिए गए इसके बाद में जब कमलेश कुमार ने वहां बैठे आधार कार्ड बना रहे व्यक्ति से कहा कि कि यह आधार कार्ड की व्यवस्था निशुल्क है आप दिखाइए कहां लिख रखा है और मेरी अधिकारियों से बात कराइए इसके बाद में आधार कार्ड बनाने वाले व्यक्ति ने फोन पर बात की और उसके बाद में ₹50 वापस बच्ची के पिता कमलेश कुमार को वापस लौटा दिए गए।
इसके बाद जब पत्रकार दीपक शर्मा ने नगर पालिका अधिशासी अधिकारी सलीम खान से बात की तो उन्होंने कहा कि यह आधार कार्ड बनवाने का काम हमारे नगरपालिका के अंडर में नहीं आता है हमने तो सिर्फ मशीन लगवा रखी है आप लिखित में शिकायत दे इसके बाद में पत्रकार ने कहा कि हम शिकायत देने वाले नहीं पेपर में प्रकाशित करने वाले पत्रकार बोल रहा हु तो अधिशासी अधिकारी सलीम खान ने कहा कि आपको जो भी छापना है छाप दो, इसके बाद में इस मामले पर नगरपालिका चेयरमैन सरिता दीवान से बात की गई तो उन्होंने कहा कि आप हमें शिकायत लिखकर दे दो हम इस मामले की जांच करेंगे। गौरतलब है कि बात शिकायत लिखकर देने की नहीं है किंतु नगरपालिका में आधार कार्ड के नाम पर रुपए ऐंठने का खेल किसकी आड़ में हो रहा है सवाल यह है की गरीब जनता से यूं ही जेब खाली कराकर पैसे लूटे जाएंगे या गरीबों का साथ दिया जाएगा। जबकि नीमकाथाना नगरपालिका क्षेत्र में धनपतियों द्वारा अवैध फर्जी कांपलेक्स के निर्माण किए जा रहे हैं वह भी बिना निर्माण स्वीकृति के उसके बावजूद भी नगरपालिका प्रशासन हाथ पर हाथ धर कर बैठा है और कुछ नहीं करता क्या एक गरीब का ही नुकसान हो सकता है सवाल यह भी उठता है।

- ऐसी ही अपने क्षेत्र की ताजा ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए डाउनलोड करें Digital Neemkathana App गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध।