नीमकाथाना/अजीतगढ़@सीकर के अजीतगढ़ में एक पैंथर घुस गया। जो गाँव कब एक मकान, दुकान में घुसा गया। जहाँ बघेरे ने करीब चार पांच घण्टे आतंक मचाया। उसके बाद मकान से निकल कर गोशाला के पास एक बरगद के पेड़ पर चढ़ गया। बघेरा मुख्य बाजार से सरपट दौड़ते हुए दहशत फैलाता रहा। इस दौरान कस्बे में दहशत का माहौल बन गया।
सूचना पर वन विभाग की टीम मोके पर पहुँची। उसके बाद वन विभाग के अधिकारियों ने जयपुर से टीम बुलाकर करीब डेढ़ घण्टे तक रेस्क्यू ऑपरेशन किया। क्रेन की सहायता से पेड़ पर करीब 30-40 फिट ऊंचे बैठे पेंथर को रेस्क्यू कर लिया। डीएफओ सीकर विजय शंकर पाण्डेय ने बताया की रेस्क्यू टीम में डॉ अशोक सिंह तँवर, राजेंद्र कुमार, मामराज व सुरेश कुमार ने रेस्क्यू करके पेंथर को कब्जे में लिया। इस दौरान कोई भी किसी प्रकार को जनहानि नही हुई।
पेंथर को पकड़ने में रेंजर देवेंद्र सिंह राठौड़ व उनकी टीम की अहम भूमिका रही। रेस्क्यू करके पेंथर को नीमकाथाना रेंज में लाया गया। पेंथर की उम्र करीब 4 से 5 साल नर के रूप में पुष्टि की गई। सुबह बालेश्वर के जंगल में छोड़ा जाएगा। इस दौरान प्रशासनिक अधिकारियों सहित तीन थानों की पुलिस मोके पर मौजूद रही। पेंथर को देखने के लिए हजारों की संख्या में लोग जुटे रहे।


नीमकाथाना न्यूज़

The Group Of Digital Neemkathana




- ऐसी ही अपने क्षेत्र की ताजा ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए डाउनलोड करें Digital Neemkathana App गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध।