राजकीय विद्य़ालय में विश्व ओजोन दिवस मनाया

नीमकाथाना-निकटवृति ग्राम भराला के राजकीय प्राथमिक विद्यालय में विश्व ओजोन दिवस मनाया गया। वन अधिकारी देवेन्द्र सिंह राठौड़ ने जानकारी देते हुए बताया कि ओजोन परत को पैराबैगंनी विकिरणों से हो रहे नुकसान के बारे मे विस्तार से बताया।
वर्तमान में भौतिकवाद के चलते प्राकृतिक जंगलों को काटकर कंकरीट के जंगलों में गडढे कर दिए गए। जिससे पृथ्वी पर गर्मी बढ़ी हैं। ओजोन परत को सरंक्षण देने के लिए पृथ्वी पर अधिकाधिक वृक्षारोपण अतिआवश्यक हैं। इस दौरान सुभाष मीणा, मुकेश सोनी, हरलाल सिंह खीचड़, वनपाल रामकुमार, लीलाधर, रामवतार गुर्जर, रामरतन, जीताराम आदि उपस्थित रहे।

Previous Post Next Post