नीमकाथाना-ग्राम जोड़ली में संवैधानिक अधिकार संगठन व जन आंदोलनों का राष्ट्रीय समन्वय द्वारा वर्तमान चुनौतियों में युवाओं की भूमिका और संविधान युवा संवाद बाबूलाल वर्मा की अध्यक्षता में संविधान शाखा कार्यालय में किया गया। कार्यक्रम की जानकारी देते हुए संवैधानिक अधिकार संगठन के प्रदेश सचिव गीगराज वर्मा ने बताया कि इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में बोलते हुए जन राष्ट्रीय आंदोलनों के राष्ट्रीय समन्वयक कैलाश मीना ने उपस्थित युवाओं को सम्बोधित करते हुए कहा कि वर्तमान समय में जिस तरह से संवैधानिक मूल्यों का हनन हो रहा है।
ऐसे में युवाओं की जिम्मेदारी संविधान के संवैधानिक मूल्यों की रक्षा के लिए युवा आगे आए और संविधान का महत्व घर-घर पहुंचाए। इस अवसर पर विशिष्ट अतिथि के तौर पर राजस्थान नागरिक मंच के महासचिव बसंत हरियाणा ने उपस्थित युवाओं से संवाद करते हुए देश में बढ़ रही सांप्रदायिकता के प्रति चिंता प्रकट करते हुए युवाओं से संप्रदायिक सद्भाव कम करने का आह्वान किया। इस अवसर पर उपस्थित सभी वक्ताओं ने देश में बढ़ती संप्रदायिकता सार्वजनिक हिंसा संवैधानिक मूल्यों का हनन पर चिंता प्रकट करते हुए युवाओं से युवाओं को संवैधानिक मूल्यों को गांव गांव ढाणी ढाणी पहुंचाने का आह्वान किया। कार्यक्रम के अंत में उपस्थित सभी ने संविधान की प्रस्तावना की शपथ ली। कार्यक्रम का संचालन संवैधानिक अधिकार संगठन के राज्य सचिव राज वर्मा ने किया। इस दौरान भंवरलाल, महेंद्र, गौरीशंकर, संदीप, कुलदीप, विक्रम, अशोक, घनश्याम, मोनू निर्मल, सुखविंदर, अनिल, सोहन, रोशन, रवि, शिवा, दीपक, सुनील, बंटी, उमेश, नरसिंह, कैलाश, बाबूलाल, राजेश, महेंद्र, उमेद, मुकेश, सरजीत, जुगल किशोर, फूलचंद, बसंत सहित अनेक लोग मौजूद रहे।


- ऐसी ही अपने क्षेत्र की ताजा ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए डाउनलोड करें Digital Neemkathana App गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध।