पाटन --नीमकाथाना की कासावती नदी के किनारे जीर की घाटी के पास राजस्व ग्राम निमोद की सीमा में क्रेशर प्लांटो का निर्माण कार्य चल रहा है। जिस के चलते कासावती नदी का बहाव अवरुद्ध हो गया है। आज महावा-भराला के दर्जनों लोग सामाजिक कार्यकर्ता कैलाश मीणा भराला के नेतृत्व में उपखण्ड अधिकारी नीमकाथाना को ज्ञापन सौंपा।
कैलाश मीणा ने बताया कि उक्त निर्माण कार्य से माननीय उच्च न्यायालय के निर्णय अब्दुल रहमान बनाम राजस्थान सरकार एवं सर्वोच्च न्यायालय के निर्णय जगपाल सिंह बनाम पंजाब सरकार के निर्देशों की अवहेलना हो रही है। नदी के बहाव क्षेत्र को लेकर ग्रामीणों ने पूर्व में भी 23 मई 2018 व उससे पहले भी कई बार ज्ञापन देकर कार्यवाही के लिए अनुरोध किया था, उसके बावजूद भी क्रेशरो का निर्माण कार्य नियम विरुद्ध किया जा रहा है। ग्रामीणों ने नदी का बहाव क्षेत्र अवरुद्ध करने वालों के खिलाफ कार्यवाही की मांग की है। ज्ञापन देने वालों में महेश सैनी, श्योदान जोड़ली, बंशीधर, रतनलाल सहित दर्जनों ग्रामीण थे।

- ऐसी ही अपने क्षेत्र की ताजा ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए डाउनलोड करें Digital Neemkathana App गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध।