नीमकाथाना न्यूज़ के लक्की में ड्रा भाग लें

News Update

अपडेट- मारपीट के मामले में लड़की का नाम हटाने की एवज में एएसआई ने मांगी रिश्वत, 3500 रुपये लेते एसीबी ने रंगे हाथों पकड़ा

नीमकाथाना--भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो जयपुर स्पेशल यूनिट में बुधवार को कार्यवाही करते हुए पाटन पुलिस थाने में कार्यरत  डाबला चौकी इंचार्ज एएसआई अशोक कुमार को 35 सौ रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया। भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो अतिरिक्त महानिदेशक सौरव श्रीवास्तव के निर्देशन पर कार्यवाही को अंजाम दिया गया है। मिली जनाकारी अनुसार ने बताया कि परिवादी ने पाटन पुलिस थाने में 18 जुलाई को मारपीट का मुकदमा दर्ज करवाया था जिस पर सामने वाली पार्टी ने भी क्रॉस मुकदमा दर्ज करवा दिया।
उक्त मुकदमें में से परिवादी की लड़की का नाम हटाने की एवज में एएसआई अशोक कुमार रैगर परिवादी से 5 हजार रुपए की रिश्वत की राशि की मांग कर रहा था। भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो अतिरिक्त अधीक्षक पुलिस स्पेशल यूनिट जयपुर हेमाराम चौधरी के नेतृत्व में उक्त मांग का सत्यापन करवाया गया।
सत्यापन के दौरान एएसआई ने 15 सौ रुपए की रिश्वत ली। एवं ट्रैप कार्रवाई के दौरान एएसआई अशोक कुमार रेगर को 35 सौ रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया। रिश्वत की यह राशि आरोपी की पहनी हुई पेंट की जेब से बरामद की गई एवं अग्रिम कार्रवाई जारी।
header ads