फुले महिला मंडल की संयोजक बबली दायमा व सहसंयोजक मनीषा सैनी को नियुक्त किया

Jkpublisher
नीमकाथाना-ग्राम पंचायत नृसिंहपुरी के राजीव गांधी सेवा केंद्र पर रविवार को भारत की प्रथम महिला शिक्षिका सावित्री बाई फुले के विचारों पर संगोष्ठी कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि सरपंच गोपाल सैनी ने संबोधित करते हुए कहा कि शिक्षा ही स्त्री का असली गहना होता है जिसके माध्यम से वह घर-परिवार, समाज एवं देश को तरक्की दिला सकती है। वहीं सैनी ने बोर्ड परीक्षाओं के जारी परिणाम को याद दिलाते हुए कहा कि बिना नारी-शिक्षा के समाज एवं देश आगे नही बढ़ सकता है। 
सावित्री बाई फुले महिला मंडल का गठन किया गया। 
कार्यक्रम की अध्यक्षता प्रियंका किलानियांँ ने की। इस दौरान माता सावित्री बाई फुले महिला मंडल का गठन किया गया। जिसमें संयोजक बबली दायमा, सहसंयोजक मनीषा सैनी को नियुक्त किया गया। सदस्य कृष्णा पालीवाल, हंसा सैनी, मंजू सैनी, खुशबू दायमा, सपना सैनी, सीमा पालीवाल, निशा सैनी, मेघा पालीवाल, नैना सैनी, अंजू वर्मा को नियुक्त किया गया। इस अवसर पर कैलाशचंद्र वर्मा, विजय बौद्ध, ओमप्रकाश सैनी, दिनेश सैनी, सुरेश पालीवाल, गोकुल सीएम, नृसिंह बौद्ध, दिनेश, कुलदीप सहित अनेक लोग मौजूद रहे।

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Learn More
Accept !