नीमकाथाना की हर खबर सिर्फ नीमकाथाना न्यू.इन पर...

News Update

नीमकाथाना: फर्जी सिम मामले में लेडी डॉन पर कोर्ट में आरोप तय, पेशी के लिए साढ़े तीन घंटे रोका

नीमकाथाना- आनंदपाल गैंग की लेडी डॉन अनुराधा को फर्जी सिम से जुड़े मामले में पुलिस ने एसीजेएम क्रम-1 के कोर्ट में पेश किया। नीमकाथाना से खरीदी गई सिम का इस्तेमाल सीकर में सराफा कारोबारी विनोद के अपहरण में हुआ था। मार्च 2015 में विकास कुमार ने उसके नाम से फर्जी सिम लेने का मामला दर्ज कराया था।
गैंग ने विनोद सराफ के अपहरण में इस सिम का उपयोग किया था। पुलिस ने लेडी डॉन अनुराधा के पास से सिम बरामद की थी। लंबी जांच के बाद पुलिस ने उसके खिलाफ सभी आरोप प्रमाणित मानते हुए चालान पेश किया। कोर्ट में लेडी डॉन को आरोप पढ़कर सुनाया गया। एसीजेएम क्रम-1 ने उस पर चार्ज लगाकर मामले की सुनवाई शुरू की है।

पुलिस ने डीडवाना जेल से नीमकाथाना लाकर अनुराधा को भारी सुरक्षा के साथ कोर्ट में पेश किया गया। चार्ज बहस के बाद अनुराधा के वकील रामनिवास यादव व सचिन सैनी ने जमानत आवेदन पेश किया। फिलहाल इस पर कोई फैसला नहीं आया।

भारी पुलिस जाब्ते के बीच पेशी पर लाए

फर्जी सिम प्रकरण में पुलिस सुबह 11.20 पर लेडी डॉन को नीमकाथाना कोर्ट लेकर आई। न्यायालय कैंपस में भारी पुलिस जाब्ता तैनात किया गया। डीएसपी दिनेश यादव, सीआई श्रीराम सहित कई अधिकारी मौजूद रहे। कोर्ट ने पुलिस को लंच के बाद आरोपी को पेश करने के आदेश दिए। ऐसे में साढ़े तीन घंटे लेडी डॉन अनुराधा को लेकर पुलिस कोर्ट में खड़ी रही।

नीमकाथाना से खरीदा गया था सिम कार्ड

सर्राफा कारोबारी विनोद के अपहरण में जिस सिम का इस्तेमाल हुआ, वह नीमकाथाना से खरीदी गई थी। सिम कार्ड विकास कुमार के नाम से फर्जी दस्तावेज तैयार कर खरीदा गया। सुभाष मंडी स्थित श्याम मोबाइल पाॅइंट से फोटो व मूल निवास प्रमाण-पत्र की प्रति के आधार पर सिम कार्डलिया गया। पिछले तीन साल से पुलिस इसकी जांच कर रही थी।

No comments