नीमकाथाना पंचायत समिति की साधारण सभा की बैठक, करोड़ों की पेयजल योजनाएं भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ गई

0
सदस्यों ने कहा-6 साल हो गए, करोड़ों की पेयजल योजनाएं भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ गई और लोग पानी के लिए तरस रहे हैं...एक्सईएन बैठकों में नहीं आते, दूसरी बार कलेक्टर को भेजेंगे प्रस्ताव

नीमकाथाना- पंचायत समिति की साधारण सभा की बैठक गुरुवार को प्रधान सिक्को देवी की अध्यक्षता में हुई। सदस्यों ने ब्लॉक स्तरीय बैठकों में एक्सईएन की गैरमौजूदगी पर सवाल खड़े किए। अजीतगढ़ व गुहाला क्षेत्र से जुड़े पंस सदस्यों ने कहा कि जब हमारे क्षेत्र की समस्या सुनने वाला कोई अधिकारी मौजूद नहीं तो फिर बैठक की क्या उपयोगिता? कलेक्टर के निर्देश के बाद भी अधिकारी पंस साधारण सभा की उपेक्षा करते हैं।


सदस्यों ने पीएचईडी, एवीएनएल व पीडब्ल्यूडी एक्सईएन द्वारा सदन की उपेक्षा करने पर दूसरी बार कलेक्टर को कार्रवाई का प्रस्ताव भेजने का निर्णय किया। महावा, खादरा, निमोद, पंडाली में वर्ष 2013-14 में स्वीकृत हुई पेयजल स्कीम शुरू नहीं होने पर 15 मिनट तक बहस होती रही। पंस सदस्य पूरण गुर्जर ने कहा कि उनके क्षेत्र की पेयजल स्कीम भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ गई।

सरपंच रामसहाय गुर्जर ने कहा कि पांच साल से शिकायतें कर रहे हैं। पीएचईडी अधिकारी ग्रामीणों को योजना का फायदा नहीं दिलावा सके। चारों योजनाएं भ्रष्टाचार के चलते फैल हो गई। विभाग ने संबंधिक ठेकेदार को इसका भुगतान तक कर दिया। नृसिंहपुरी सरपंच ने करणपुरा स्कूल में स्टाफ नहीं होने व पढ़ाई प्रभावित होने का मसला उठाया। चर्चा के बाद बीईईओ सत्यप्रकाश टेलर को मामले की जांच के निर्देश दिए गए।

सीडीपीओ संजय चेतानी ने सदन में कहा कि 87 आंगनबाड़ी केंद्रों के भवन जर्जर हैं। मरम्मत व पुनर्निर्माण की मांग के लिए प्रस्ताव भेजा गया है। सदस्यों ने शौचालय निर्माण पर 18 सौ लोगों को भुगतान नहीं मिलने का मामला उठाया। बीडीओ सुमेरसिंह ने कहा कि दिल्ली से स्वीकृति मिलने के बाद सूची को ऑनलाइन किया जाएगा। उसके बाद ही भुगतान संभव हो सकेगा।

बीडीओ ने कहा कि जनप्रतिनिधि भी अपने क्षेत्र में निगरानी रखें। प्रधानमंत्री आवास योजना के लक्ष्यों को समय पर पूरा करें। चर्चा में पंस सदस्य पूजा चतुर्वेदी, एडवोकेट दीपक नेहरा, सरपंच भोलाराम, सरपंच भरत कुमार, रामसहाय गुर्जर, गोपाल सैनी शामिल हुए।

खनन प्रभावित क्षेत्रों में तीन करोड़ 50 लाख रुपए के काम स्वीकृत हुए 

माइनिंग जोन में पर्यावरण संरक्षण के प्रयासों के लिए जमा राशि से नीमकाथाना इलाके में 3 करोड़ 50 लाख के काम हुए हैं। पंस सदस्य दीपक नेहरा के सवाल पर एएमई अनिल गुप्ता ने कहा कलेक्टर के माध्यम से जिलास्तरीय कमेटी इस फंड से कार्यों की स्वीकृति जारी करती है।

सदस्यों ने बजरी के अवैध खनन पर कार्रवाई नहीं होने पर नाराजगी जताई। पंस सदस्य पूजा चतुर्वेदी, सरपंच रामसहाय गुर्जर आदि लोगों ने माइनिंग से जुड़े मामले रखे। नृसिंहपुरी सरपंच गोपाल सैनी ने गुहाला में स्लेरी निस्तारण की प्रोपर व्यवस्था नहीं होने का मसला उठाया।

खतरनाक हालात में बंद खदानों का सर्वे होगा

पंस सदस्य दीपक नेहरा ने इलाके में बंद पड़ी खदानों से खतरे का मसला उठाया। एएमई अनिल गुप्ता ने कहा सर्वे में 43 खदानों को चिन्हित किया गया था। सुरक्षा प्रबंध के लिए सबंधित लीज धारक को नोटिस दिया गया था। माइनिंग क्लोजर प्लॉन की पूर्ति नहीं करने पर 15 खदानों को निरस्त किया गया था। अब कलेक्टर के निर्देश पर फिर से ऐसी खदानों का सर्वे किया जा रहा है।

Post a Comment

0Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.
Post a Comment (0)

Neemkathana News

नीमकाथाना न्यूज़.इन

नीमकाथाना का पहला विश्वसनीय डिजिटल न्यूज़ प्लेटफॉर्म..नीमकाथाना, खेतड़ी, पाटन, उदयपुरवाटी, श्रीमाधोपुर की ख़बरों के लिए बनें रहे हमारे साथ...
<

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Learn More
Accept !