नीमकाथाना की हर खबर सिर्फ नीमकाथाना न्यू.इन पर...

Headlines

नीमकाथाना: शहर में धड़ल्ले से हो रहे है अवैध निर्माण नगरपालिका ने दी मौन स्वीकृति, भूमाफियों के होंसले बुलन्द

कस्बे में धड़ल्ले से बन रहे है बहुमंजिला कॉम्प्लेक्स, अवैध निर्माणकर्ताओं को पालिका ने दी मौन स्वीकृति 

- हरीश देवंदा

नीमकाथाना - शहर में आजकल  बिना अनुमति के नियम कानूनों  को ताक में रख कर बन रहे अवैध  वाणिज्य कॉन्प्लेक्सो पर पालिका प्रशासन मेहरबान हो रहा हैं । शहर के सुभाष मण्डी , एसबीआई बैंक गली, कपिल मण्डी, शाहपुरा रोड़, खेतड़ी मोड़ पर संकरी गलीयो में पालिका की बिना अनुमति से हो रहे निर्माणों को देख कर  लगता है कि  पालिका अधिकारियों ने अवैध निर्माणकर्ताओं को अपनी मौन स्वीकृति दे रखी है ।

अनेकों बार सामाजिक जागरूक लोगों द्वारा अवैध निर्माण को लेकर  पालिका प्रशासन को  अवगत कराने के बाद भी  निर्माण करने वाले पालिका में अपनी राजनैतिक रसूक व धनबल से नियम कानूनो को ताक में रखकर वाणिज्य भवनो का निर्माण कर रहे है।

अवैध निर्माण के खिलाफ  कार्यवाही को लेकर  कहने को तो  पालिका प्रशासन ने  हल्का जमादार , अतिक्रमण प्रभारी लगा रखे हैं  । लेकिन  कर्मचारियों द्वारा  किसी भी  अवैध निर्माण करता के खिलाफ  कोई कार्यवाही नहीं की जाती है ।  जिस पर पालिका प्रशासन ने आंखे मून्द रखी है। पालिका प्रशासन ने शहर में हो रहे अवैध निर्माणो की निगरानी को लेकर हल्का जमादार एवं एसआई लगा रखे है लेकिन कर्मचारीयो की मिलीभगत से शहर में धड़ल्ले से नियम विरूद्ध निर्माण कार्य हो रहे है।

 शिवसेना जिला प्रमुख  नरेंद्र सिंह मोगा ने  बताया कि अनेकों बार पालिका प्रशासन को शहर में हो रहे अवैध निर्माण को लेकर अवगत कराया जा चुका है इसके बाद भी पालिका प्रशासन कोई कार्यवाही नहीं कर रहा है। गौरतलब है कि पूर्व पालिका अधिशासी अधिकारी सलीम खान द्वारा अवैध निर्माण कर्ताओं के खिलाफ कार्यवाही करते हुए एक दर्जन से अधिक अवैध निर्माणों को रुकवा दिया गया था। लेकिन जब से अधिशासी अधिकारी विशाल यादव ने कार्यभार संभाला है तब से शहर  में अवैध निर्माण में तेजी आई है।

अधिशासी अधिकारी यादव को अवगत कराने के बाद भी अवैध निर्माण कर्ताओं के खिलाफ कोई कार्यवाही नहीं की जा रही है । मिली जानकारी अनुसार कपिल मंडी में अवैध निर्माण कर्ताओं के द्वारा पोस्ट ऑफिस की गली में गहरे बेसमेंट की खुदाई कर निर्माण किया जा रहा है। जिसके आसपास मकान बने हुए हैं कभी भी कोई हादसा घटित हो सकता है । लेकिन पालिका प्रशासन निर्माणकर्ताओं के खिलाफ कोई कार्यवाही नहीं कर रहा है।

मास्टर प्लान की नहीं हो रही है पालना

शहर में नियम विरुद्ध हो रहे अवैध निर्माण कर्ताओं के द्वारा राज्य सरकार द्वारा बनाए गए नियम-कानूनों की धड़ल्ले से धज्जियां उड़ाई जा रही हैं ।  राज्य सरकार द्वारा बनाए गए मास्टर प्लान की पालना भी निर्माण कर्ताओं द्वारा नहीं की जा रही है । कस्बे की दस से पंद्रह फुट संकरी गलियों में गहरे बेसमेंट खुदाई कर सुरक्षा मापदंडों को दरकिनार करते हुए अवैध निर्माणों को अंजाम दिया जा रहा है।  निर्माण करने वालो के द्वारा बहुमंजिला  कॉम्प्लेक्सो मे ना तो पार्किग व्यवस्था है, ना ही अग्नि सुरक्षा के उपाय  किए जा रहे हैं।

इनका कहना है

अधिषाशी अधिकारी विशाल यादव से दूरभाष पर  षहर में हो रहे अवैध निर्माण के खिलाफ कार्रवाई को लेकर जानकारी चाही तो पालिका कार्यालय में  आने की बात कही।

 अतिक्रमण प्रभारी कनिष्ठ अभियंता मनीष सिंह ने अवैध निर्माण को लेकर कहा कि हल्का जमादार के द्वारा शिकायत आने पर नियम विरुद्ध हो रहे निर्माण के खिलाफ  कार्यवाही की जाएगी। 

No comments