null विनम्र श्रद्धांजलि...

Headlines

सीकर: उधार दिए रूपये वसूलने गया व्यापारी को महिला व उसके 2 साथियों ने किया ऐसा कि कई दिनों तक सहमा रहा व्यापारी

उधार के 10 हजार रुपए की वसूली करने गया था व्यापारी, दोनों आरोपी गिरफ्तार, महिला फरार

सीकर- व्यापारी को बंधक बना कर मारपीट कर एक महिला व उसके दो साथियों ने तीन लाख 70 हजार रुपए ले लिए। तीनों ने व्यापारी के कपड़े उतार कर ब्लैकमेल करने के लिए वीडियो क्लिपिंग भी बना ली। उसे मारपीट कर धमकाने के बाद सात लाख तीस हजार रुपए के पेपर पर साइन करवा लिए। इसके बाद उसे छोड़ दिया।


पुलिस ने बीरबल पुत्र शैतान राम निवासी खोरडी नागौर को राणी सती से गिरफ्तार किया है। वहीं दूसरे आरोपी बाबूलाल पुत्र जीवण राम निवासी गुर्जरों की ढाणी कांसली को जेल से प्रोडक्शन वारंट पर गिरफ्तार किया है। दुष्कर्म के एक मामले में पुलिस ने उसे गिरफ्तार किया था।

पीड़ित व्यापारी पंकज कुमार अग्रवाल ने पुलिस को रिपोर्ट दी कि उसने अजमेर बस स्टैंड पर पंकज किराणा स्टोर के नाम से दुकान कर रखी है। उसकी दुकान पर अंबेडकर सर्किल के पास स्थित इंदिरा कॉलोनी निवासी सुनीता चौधरी काफी दिनों से उधार सामान लेकर जाती थी।

उसने केशर हॉस्टल के नाम से पीजी हॉस्टल खोल रखा है। पंकज उससे सामान उधारी के 10 हजार रुपए मांग रहा था, लेकिन वह रुपए नहीं चुका रही थी। 28 मार्च को सुनीता ने उसे फाेन कर रुपए लेने के लिए घर बुलाया। पंकज वहां पहुंचा तो बीरबल व बाबूलाल पहले से बैठे हुए थे। दोनों ने उसे कमरे में ले जाकर मारपीट की।

कई दिनों तक सहमा रहा व्यापारी : वहां से जाने के बाद व्यापारी घर चला गया। वह तीनों की धमकी से काफी डर गया था। कई दिनों के बाद हिम्मत कर उसने डिपो चौकी पहुंच कर मामला दर्ज कराया। पुलिस ने मामले की जांच शुरू की तो महिला फरार हो गई।

इसके बाद पुलिस ने बीरबल पुत्र शैतान राम को गिरफ्तार कर लिया। आरोपी बाबूलाल पुत्र जीवण राम गुर्जरों की ढाणी कांसली गांव का रहने वाला है। वह बैंगलुरु में टाइल्स का काम करता था। सदर थाने में उसके खिलाफ एक युवती ने दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज कराया था। इसके बाद पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। पुलिस ने उसे जेल से प्राेडक्शन वारंट पर गिरफ्तार किया है।

किराना व्यापारी ने रिश्तेदार को फोन कर मंगाए रुपए 

बीरबल, बाबूलाल और केशर ने पंकज को धमकाकर सात लाख तीस हजार रुपए के एक पेपर पर जान से मारने की धमकी देकर साइन करवा लिए। इसके बाद उसके कपड़े उतार कर वीडियाे बना ली। उसे वीडियो दिखाकर रुपए मंगवाने के लिए दबाव बनाने लगे।

उसने मना किया तो उसे तीनों ने मारा-पीटा। फिर उसने अपने एक रिश्तेदार को फोन कर रुपए देने के लिए कहा। उसका रिश्तेदार कुछ समय के बाद तीन लाख 70 हजार रुपए लेकर आया। रुपए लेने के बाद तीनों ने उसे पुलिस के पास ना जाने की धमकी देकर छोड़ दिया।

No comments