सरगना सतीश खुंडा खुद उपलब्ध कराता था हथियार, हरियाणा में वारदात कर झुंझुनूं और झुंझुनूं वारदात कर हरियाणा में भाग जाते थे गैंग के गुर्ग

झुंझुनूं- पेरोल पर आकर फरार हुआ नौगांवा झज्जर निवासी सतीश खुंडा उर्फ मुंडा न केवल झुंझुनूं में फरारी काट रहा था, बल्कि वह हार्डकोर अपराधियों को हथियार मुहैया करवा कर वारदातें करने भेजता रहा है। खुंडा और उसके तीन साथियों को पुलिस ने गुरुवार की रात सीतसर रोड स्थित एक घर से पकड़ा था। इस दौरान भागे एक अन्य आरोपी को पिलानी पुलिस ने गुरुवार रात पिस्टल समेत पकड़ लिया।


पिलानी के वार्ड 25 निवासी सूरज भुंडी को पकड़ा। 315 बोर की पिस्टल जब्त की। अब तक इस गिरोह के आठ लोग पुलिस की पकड़ में आ चुके हैं। प्रारंभिक पूछताछ में इन आरोपियों ने पुलिस के समक्ष कई सनसनीखेज खुलासे किए हैं। पुलिस ने बताया कि इस गिरोह का सरगना नौगांवा झज्झर निवासी सतीश खुंडा है। वह अपने गिरोह के सदस्यों को वारदात के लिए हथियार मुहैया कराता था।

वारदात के बाद उनसे हथियार वापस ले लेता और लूट की राशि में अपना हिस्सा लेता था। सतीश खुंडा ही गिरोह के सदस्यों को टास्क देता था। इतना ही नहीं, इस गिरोह के सदस्य लगातार हरियाणा व झुंझुनूं जिले में बॉर्डर पर वारदातें कर रहे थे। झुंझुनूं में वारदात करके हरियाणा में भाग जाते और वहां वारदात कर झुंझुनूं में छुप जाते।

इधर बुहाना में नाकाबंदी तोड़ कर भागते पुलिस के हत्थेचढ़ेहरियाणा के सतीश उर्फ खुंडा उर्फ मुंडा गैंग के तीन सदस्यों को जेल भेजा है। पाथेड़ा महेंद्रगढ़ (हरियाणा) निवासी आशीष उर्फ सेठी राजपूत (28), ढाणा सतनाली (हरियाणा) निवासी दिनेश उर्फ मामन उर्फ जंगली (24) व सूरजगढ़ निवासी संदीप उर्फ दीपू उर्फ दीपक नायक (22) को कोर्ट में पेश किया, जहां से जेल भेजा।

पांच माह से झुंझुनूं में बैठ कर टारगेट कर रहा था सरगना सतीश 

पुलिस पूछताछ में बदमाशों ने खुलासा किया है कि जेल में रहने के दौरान सतीश खुंडा की झुंझुनूं के युवकों से भी पहचान हो गई। पेरोल पर छूटने के बाद वह फरार हो गया। उसने झुंझुनूं को अपनी पनाहगाह बना लिया।

पुलिस से बचने के लिए सतीश गिरोह के सदस्यों को अपना ठिकाना नहीं बताता था। घरड़ाना कलां (सिंघाना) के विकास उर्फ विक्की से उसकी अच्छी पहचान हो गई। घरड़ाना कलां का विकास उर्फ विक्की भी हार्डकोर अपराधी है।

कोतवाली पुलिस ने गुरुवार रात सीतसर रोड स्थित एक घर से पकड़े गए चारों आरोपियों बेसरड़ा निवासी कुंदन मेघवाल, काठमांडी धर्मशालावाली रोहतक निवासी आकाश, नौगांवा झज्जर निवासी सतीश एवं घरड़ाना निवासी विकास उर्फ विक्की को शुक्रवार दोपहर कोर्ट में पेश किया गया।

आरोपियों से गहन पूछताछ के लिए सात दिन का रिमांड मांगा। न्यायाधीश ने उन्हें 24 मई तक रिमांड पर भेजने के आदेश दिए। मामले की जांच सदर थानाप्रभारी शंकर लाल छाबा कर रहे हैं।

गिरोह ने कबूली कई संगीन वारदातें

अपराधियों ने कई वारदातों को कबूल किया है। 22 फरवरी 2018 को चनाना से जोधपुर जा रहे सरसों की बोरियों से भरे ट्रक को गुढ़ागौड़जी थाना क्षेत्र के बालाजी स्टैंड के पास रोककर चालक व खालासी को बंधक बनाकर ट्रक को लूटा।

14 मई 2018 को बुहाना में हरियाणा बॉर्डर पर ढाणी संपत सिंह में स्टोन व सीमेंट विक्रेता संपतलाल कुमावत व उसके बेटे देवेंद्र कुमावत पर फायरिंग कर 50 हजार रुपए व अन्य दस्तावेज ले गए। कोटपूतली से एक ब्रेजा गाड़ी लूटने सहित कई वारदातें कबूली।

ऐसे मिला था क्लू 

खुंडा गिरोह के सदस्यों ने पूछताछ में अन्य सदस्य झुंझुनूं में रहते बताए गए। इस पर गुरुवार को पुलिस ने सीतसर रोड पर यह कार्रवाई की थी। चार युवकों को गिरफ्तार कर एक पिस्टल, दो रिवॉल्वर 18 कारतूस जब्त किए थे। पिलानी का सूरज उर्फ भूंडी भाग गया था जिसे पिलानी पुलिस ने पकड़ लिया।

विज्ञापनविज्ञापन के लिए संपर्क करें- 9079171692,7568170500

Join Whatsapp Group

नीमकाथाना न्यूज़

The Group Of Digital Neemkathana




- ऐसी ही अपने क्षेत्र की ताजा ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए डाउनलोड करें Digital Neemkathana App गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध।