Our Co. Partner- SMP School Kairwali, BulBul E Recharge

Headlines

नीमकाथाना: अतिक्रमियों व पालिका दस्ते के बीच हुई नोक झोंक, विरोध के बीच हटाया अतिक्रमण

पीड़ितों ने पालिका प्रशासन पर लगाया मनमर्जी का आरोप। 

- मनीष कुमार 

नीमकाथाना- नगर पालिका प्रशासन ने मंलवार को रास्ते पर हो रहे अतिक्रमण को हटाने को लेकर अभियान चलाया। पालिका ईओ विशाल यादव, सहायक अभियंता सुनील यादव पालिका दस्ते व भारी पुलिस जाब्ते के  साथ अतिक्रमण हटाने को  लेकर वार्ड नम्बर 01 स्थित सींगीवाल बस्ती एवं खेतड़ी रोड से अभय अभय जाने वाले रास्ते पर बने अतिक्रमण को हटाने के लिए पहुंचे।


कच्ची बस्ती में बने पक्के मकनों को धवस्त करने के दौरान अतिक्रमीयों व पालिका दस्ते के बीच नोक झोंक हो गई। जिस पर पुलिस ने समझाइस कर मामले को शांत करवाना चाहा लेकिन अतिक्रमी व पुलिस के जवानों के बीच भी आपस में कहासुनी हो गई जिसको लेकर पुलिस हल्का बल प्रयोग कर मामले को शांत किया।

वहीं अतिक्रमण दस्ते ने पूर्व में चिन्हित अतिक्रमण को न हटाकर अपनी मनमर्जी से खातेदारी जमीन में लगे पिल्लरों व तारो को अतिक्रमण तोड़कर सड़क निर्माण को लेकर हटा दिया।


कार्यवाही पर लगे भेदभाव के आरोप 

पीड़ित मालीराम ने बताया कि पूर्व में पालिका प्रशासन ने राजस्व रिकाॅर्ड अनुसार अतिक्रमण को चिन्हित कर अतिक्रमण हटवाए था, जिसमें से पालिका प्रशासन ने अपने राजनीतिक दबाव के चलते कुछेक अतिक्रमण को छोड़ दिया था।

पालिका ने दुबारा अतिक्रमण को हटाने के लिए कार्यवाही की। अधिशासी अधिकारी मौके पर आम रास्ते पर राजस्व रिकाॅर्ड में दर्ज सरकारी जमीन पर रहे चिन्हित अतिक्रमण को नहीं हटाया। लेकिन खातेदारी जमीन में पालिका प्रशासन द्वारा चिन्हित करने के बाद तार बाउंड्री लगवाई थी।

अधिशासी अधिकारी ने अपने पद का दुरूपयोग करते हुए मनमर्जी से मेरी तार बाउंड्री को खुर्द-बुर्द कर दिया जिससे हजारों का नुकसान कर दिया। जब अधिशासी अधिकारी के राजस्व रिकाॅर्ड में दर्ज जमीन पर अतिक्रमण हटाने का गुहार लगाई तो कहा कि मैं अपनी मर्जी से इसीको हटाऊंगा। तुम को जो करना है कर लो जहाँ जाना है जावो। पालिका प्रशासन अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई के दौरान ना तो राजस्व रिकॉर्ड को चिन्हित करने के लिए हल्का पटवारी को लेकर अाये ।

स्थानीय लोगों ने जानकारी देते हुए बताया कि पूर्व में पालिका प्रशासन ने राजस्व रिकॉर्ड अनुसार अतिक्रमणों को चिन्हित करें अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई की थी जिस के दौरान पटवार हल्का द्वारा राजस्व रिकॉर्ड अनुसार अतिक्रमणों को चिन्हित करवाया गया था।

जिसमें से कुछ के  अतिक्रमण पालिका प्रशासन ने राजनीतिक दबाव के चलते छोड़ दिए थे आज पालिका अधिशासी अधिकारी यादव दोबारा से अतिक्रमण हटाने को लेकर अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई की थी इसमें इस बार भी हर बार की भांति राजनीतिक दबाव  व रसूख के चलते अपने चहेतों को लाभ देते हुए अतिक्रमणों को हटाया है। 

No comments