पाटन न्यूज़- न्यायिक हिरासत से अपहरण के एक मामले में आरोपी हैड कांस्टेबल शीशराम को पुलिस अधीक्षक विनीत कुमार ने निलंबित कर दिया। शीशराम यातायात शाखा सीकर में कार्यरत था। आरोपी शीशराम को कोर्ट ने नीमकाथाना के सांवलराम यादव अपहरण मामले में जेल भेजा था।


48 घंटे से अधिक समय न्यायिक अभिरक्षा में रहने पर एसपी विनीत कुमार ने हैड कॉस्टेबल को निलंबित किया। इनका मुख्यालय पुलिस लाइन सीकर किया गया है।

यह है मामला : पाटन पुलिस ने पूर्व विधायक की फैक्ट्री में जबरन घुसने व गाली-गालौच करने के मामले में सांवलराम यादव को गिरफ्तार किया था। 18 जून 2011 को पुलिस ने सांवलराम को एसीजेएम क्रम सं.-1 में पेश किया। एडवोकेट रामसिंह गुर्जर ने जमानत आवेदन पेश किया।

उसे स्वीकर कर लिया गया। कोर्ट में जमानत मुचलके पेश होने से पहले ही तत्कालीन पाटन एसएचओ गोकुलचंद, रींगस डीएसपी भैरूलाल मीणा, कांस्टेबल मोहनलाल व शीशराम न्यायिक अभिरक्षा से सांवलराम का अपहरण कर गाड़ी से ले गए।

न्यायालय में पेश प्रार्थना-पत्र को परिवाद के रूप में दर्ज किया गया था। कोर्ट ने रींगस डीएसपी भैरूराम, पाटन एसएचओ गोकुलचंद, सिपाही शीशराम व मोहनलाल के खिलाफ धारा 365/34 व 504 में प्रसंज्ञान लेकर जमानती वारंट से तलब किया था।